एक्टीवेट मोबाइल सिम बेचने वाले गिरोह का हुआ खुलासा, चार गिरफ्तार


 हरदोई।
विशेष अभियान ऑपरेशन शिकंजा के तहत कार्यवाही के अंतर्गत अपराधियों के पास दूसरे के नाम पते के सिम मिलने के पश्चात छानबीन से पता चला कि प्री-एक्टिवेटिड सिम बेचने वाला एक गिरोह जनपद में सक्रिय है, इस गिरोह को पकडने के लिये पुलिस अधीक्षक अजय कुमार द्वारा क्षेत्राधिकारी शहर अपराध के निर्देशन में सर्विलांस व एसओजी टीम तथा कोतवाली शहर को लगाया गया। गुरूवार को मुखबिर की सूचना पर साण्डी रोड पर स्थित बडी नहर पुलिया के पास 04 व्यक्तियों को विभिन्न दूरसंचार कंपनियों के प्री एक्टीवेटिड मोबाइल सिम के साथ खरीद फरोख्त करते हुए पकडा गया। पूछताछ में ज्ञात हुआ कि उपरोक्त गिरोह गांव मे घूम-घूम कर सिम बेचते है। इस दौरान जब कोई व्यक्ति अपना अंगूठा लगाकर अपना आधार कार्ड सत्यापित करता है तब उसी व्यक्ति से रिचार्ज के बहाने दूसरा सिम अंगुठा लगवाकर एक्टिवेट कर लेते है और उसे अपने पास रख लेते है जिसे ऊचे दामों पर हरदोई व आस पास के जिलों मे बेचा जाता है। गिरफ्तार किये गये अभियुक्तो में राहुल कुमार पुत्र विनोद कुमार निवासी बमटापुर, थाना साण्डी, विवके सिंह उर्फ सत्यम सिंह पुत्र शेर सिंह निवासी सेमरा थाना साण्डी, दुलीचन्द्र पुत्र संतराम निवासी सुरैना थाना साण्डी व गौरव त्रिवेदी पुत्र कृष्ण प्रकाश निवासी बावन थाना लोनार को गिरफ्तार किया गया। अभियुक्ता ने बताया कि इन सिम कार्डो का प्रयोग अपराधियों द्वारा अपराध करने में प्रयोग किया जाता है जिससे जांच के दौरान अपराधियों की पहचान सत्यापित नही हो पाती है। इस गिरोह द्वारा बेचे गये सिमो के बारे में जांच की जा रही है तथा इस गिरोह से कौन कौन व्यक्ति जुडे है पुलिस इसकी भी पडताल कर रही है। 


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक