भारत को आत्मनिर्भर बनाने के लिए भारतीय उद्योगों पर है बड़ा दायित्व: प्रधानमंत्री


नई दिल्ली
, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज सीआईआई की वार्षिक बैठक को संबोधित किया। अपने संबोधन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि इतनी बड़ी महामारी के दौरानए हम भारत सरकार और उसके उद्योगों की मजबूती देख रहे हैं। मास्क से लेकर पीपीई से लेकर टीकाकरण तकए इंडस्ट्री ने सरकार को हर संभव मदद दी है। आप सभी भारतीय विकास गाथा के प्रमुख अंग रहे हैं।  देश को जो भी जरूरत पड़ीए जब भी जरूरत पड़ीए उद्योगों ने आगे बढ़कर हर संभव योगदान दिया।

मोदी ने कहा कि  की ये बैठक इस बार 75वें स्वतंत्रता दिवस के माहौल मेंए आजादी के अमृत महोत्सव के बीच हो रही है। ये बहुत बड़ा अवसर हैए भारतीय उद्योग जगत के नए संकल्पों के लिएए नए लक्ष्यों के लिए है। आत्मनिर्भर भारत अभियान की सफलता का बहुत बड़ा दायित्वए भारतीय उद्योगों पर है। उन्होंने कहा कि आईटी सेक्टर में रिकॉर्ड हाइरिंग से संबंधित रिपोर्ट भी हमने देखी है। ये देश में डिजिटलीकरण और डिमांड की ग्रोथ का ही परिणाम है। ऐसे में हमारा प्रयास होना चाहिए कि हम इन अवसरों का उपयोग करते हुएए अपने लक्ष्यों की ओर दो गुनी गति से बढ़ें। आज का नया भारतए नई दुनिया के साथ चलने के लिए तैयार हैए तत्पर है। जो भारत कभी विदेशी निवेश से आशंकित थाए आज वो हर प्रकार के निवेश का स्वागत कर रहा है। 

प्रधानमंत्री ने कहा कि एक समय था जब हमें लगता था कि जो कुछ भी विदेशी है, वही बेहतर है। इस psychology का परिणाम क्या हुआ, ये आप जैसे industry के दिग्गज भलीभांति समझते हैं। हमारे अपने ब्रांड भी, जो हमने सालों की मेहनत के बाद खड़े किए थे, उनको विदेशी नामों से ही प्रचारित किया जाता था। आज स्थिति तेजी से बदल रही है। आज देशवासियों की भावना, भारत में बने प्रोडक्ट्स के साथ है। कंपनी भारतीय हो, ये जरूरी नहीं, लेकिन आज हर भारतीय, भारत में बने प्रोडक्ट्स को अपनाना चाहता है। आज देश में वो सरकार है जो राष्ट्र हित में बड़े से बड़ा रिस्क उठाने के लिए तैयार है। GST तो इतने सालों तक अटका ही इसलिए क्योंकि जो पहले सरकार में वो political risk लेने की हिम्मत नहीं जुटा पाए। हमने न सिर्फ GST लागू किया बल्कि आज हम record GST collection होते देख रहे हैं। 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक