सपा जीतेगी 400 विधानसभा सीटे : अखिलेश यादव


लखनऊ
,अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर समाजवादी पार्टी ने तैयारियां तेज कर दी है। पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव ने रविवार को अपनी सहयोगी महान दल के कार्यक्रम में शिरकत की। इस दौरान उन्हें महान दल के नेताओं ने चांदी का मुकुट पहनाया। 51 किलो की माला पहनाकर स्वागत किया। अखिलेश ने अपने संबोधन में BJP पर हमला किया।

अखिलेश ने किसानों के समर्थन में महान दल की ओर से कासगंज में करवाई गई जनसभा को ऐतिहासिक बताया। कहा, किसानों के मुद्दे पर वो जनसभा ऐतिहासिक रही। शायद इतनी बड़ी सभा उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी सरकार में रहने के बावजूद नहीं कर पाएं। अखिलेश ने ये भी बताया कि इसे आम लोगों तक पहुंचाने में वह कहां फेल हो गए।

कहा, जितना प्रचार होना चाहिए था उतना प्रचार हम नहीं कर पाए। लेकिन सोशल मीडिया के माध्यम से लोगों ने इसे जरूर देखा। बोले, आने वाले समय में बहुमत की सरकार बनेगी। अभी तक हम बोलते थे 350 सीट लेकिन जैसे हमारा और आप का कार्यक्रम तय हो गया और लोगों से बातचीत हो गई तो अब ये साफ हो गया है कि आने वाले चुनाव में सपा गठबंधन को 400 सीटें मिलेंगी।

केवल वोट के लिए दलितों को मंत्री बनाया
अखिलेश ने केंद्र सरकार पर भी निशाना साधा। कहा, सुना है दिल्ली वाले पिछड़ों की राजनीति कर रहे हैं। अभी जब मैं लोकसभा में था जासूसी पर जब शोर हुआ। देश के प्रधानमंत्री हम लोगों से कह रहे थे कि, दलित और पिछड़ों का सम्मान नहीं कर रहे। कैसे आप भरोसा कर सकते हो? यह जो मंत्री पद दिए जा रहे हैं और आगे भी लखनऊ में जो मंत्री पद दिए जाएंगे वह केवल वोट के लिए दिए जा रहे हैं। वह जानते हैं कि उत्तर प्रदेश में चुनाव आ रहा है।

डिप्टी सीएम केशव मौर्य पर कसा तंज
अखिलेश यादव ने डिप्टी सीएम केशव मौर्य का बगैर नाम लिए तंज कसा। कहा कि, कुछ लोग नकली बनकर बैठे हैं, जो गड्ढे नहीं भर पा रहे। अखिलेश ने कहा, एक बार गलती से हमारे मुख्यमंत्री दिल्ली चले गए तो वो (केशव मौर्य) गलती से उनकी कुर्सी पर जाकर बैठ गए। चीफ सेक्रेटरी, डीजीपी को बुला लिया। बाहर अपनी नेम प्लेट तक की लगा ली, लेकिन जैसे ही ठोकने वाले को जानकारी मिली वह दिल्ली से वापस लखनऊ आ गए। उसके बाद वो वाली कुर्सी कभी नसीब नहीं हुई। यहां तक नेम प्लेट कहां चली गई पता न चल पाया। आपके समाज का काम होगा। सदैव असली केशव के साथ आइएगा। हम करेंगे कोई भी काम नहीं रुकेगा।

OBC की जनगणना नहीं कराना चाहती है सरकार
पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा, अगले साल जनगणना होनी है लेकिन ओबीसी की अलग जनगणना सरकार नहीं कराना चाहती है। हमें आपको भी लड़ाया जाता है। बताया जाता है कि सबसे ज्यादा ओबीसी का हक यादव ने मार रखा है। अब चुनाव आ रहा है देखिए किस तरीके की साजिशें की जाएंगी। क्या-क्या अफवाह फैलाई जाएगी। कितनी साजिश हो रही है।

अखिलेश ने और क्या कहा ?

  • भाजपा ने दावा किया था कि वो लैपटॉप भी देंगे डेटा भी देंगे। हमने मोबाइल और लैपटॉप बांटा था। लेकिन BJP का दावा सिर्फ दावा रहा।
  • इस सरकार में लैपटॉप-मोबाइल नहीं मिल पा रहा है। क्योंकि, हमारे बाबा मुख्यमंत्री लैपटॉप चलाना नहीं जानते हैं।
  • अभी कुछ दिन पहले हमारे मुख्यमंत्री ने DNA पर कहा कि, जो भगवान को नहीं पूजते उनका DNA नहीं मिलता। हम तो कह रहे हम प्रभु श्री राम को पूजते हैं, आप बताएं उनका डीएनए क्या है?
  • प्रदेश के मुख्यमंत्री ने विकास रोक दिया है। इन्हें विकास पसंद ही नहीं है, ये केवल प्रचार करना जानते हैं। BJP ने संकल्प पत्र में कहा था कि हम किसानों की आय दोगनी कर देंगे। आप बताइए कि कहां पर किसकी आय दोगनी हुई?

बाबा चाहे जितना वोट मांग लें, हम उनको सरकार नहीं बनाने देंगे
महान दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष केशव देव मौर्य ने कहा कि हम सभी दलित, पिछड़ों को एकजुट होकर इन झूठे मक्कारों को हराना है। जो संघर्ष सावित्रीबाई फुले ने किया था उनका अपमान किया गया। अगर गलती से भाजपा की एक बार और सरकार आ गई तो सब कुछ चौपट हो जाएगा। कोरोना में बच्चों का स्कूल नहीं खुल पाया। केवल वही पढ़ पाए जिनके पास लैपटॉप और मोबाइल थे। गरीब का बच्चा नहीं पढ़ पाया।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक