योगी आदित्यनाथ को बनाएं उत्तराखंड का CM:अखिलेश यादव

 


उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड के राजनीतिक हालात पर तंज कसते हुए समाजवादी पार्टी (सपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ पर निशाना साधा है। अखिलेश ने रविवार को कहा कि उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड दोनों राज्यों के यार्ड में खड़ा डबल इंजन जंग खा रहा है। यूपी में मुख्यमंत्री जी के कारण लोकतंत्र चोटिल हुआ है। उत्तराखंड में लोकतंत्र अस्थिरता का शिकार हो गया है। ऐसे में भाजपा की राजनीति की बेहतरी और दोनों राज्यों में स्थिरता की बहाली के लिए यूपी के मुख्यमंत्री जी को उत्तराखंड स्थानांतरित कर दिया जाए। ताकि, वहां रोज-रोज नेतृत्व परिवर्तन के झंझट से मुक्ति मिल सके।

भाजपा के शीर्ष नेतृत्व में यूपी का CM बदलने की हिम्मत नहीं
अखिलेश यादव ने कहा कि यूपी में लोकतंत्र चाहे पाताल में समा जाए, लेकिन शीर्ष भाजपा नेतृत्व भी यहां मुख्यमंत्री बदलने की हिम्मत नहीं जुटा सकता है। जनता में भाजपा सरकार के प्रति असंतोष बढ़ता जा रहा है। दोनों राज्यों में पलायन की समस्या समान रूप से गंभीर है। कानून व्यवस्था में गिरावट और राजनीतिक तिकड़म-बाजी के चलते दोनों राज्यों में न तो पूंजी निवेश हो रहा है और न ही नए उद्योग-धंधे लग रहे हैं। कोरोना संक्रमण के दौर में सरकारी निष्क्रियता और अकर्मण्यता के कारण लोग मौत के शिकार बनते गए। जनता त्राहि-त्राहि कर रही है।

राम मंदिर और राफेल के बहाने, अखिलेश ने साधा भाजपा पर निशाना
अखिलेश यादव ने भाजपा का नाम लिए बिना उस पर तंज कसा है। एक ट्वीट में अखिलेश ने राम मंदिर के चंदे और रक्षा सौदों का जिक्र किया है। हाल ही में राफेल डील की फ्रांस में जांच और राम मंदिर के निर्माण के लिए भूमि खरीद में घोटाले के मामले चर्चित रहे थे। ट्वीट में अखिलेश यादव ने लिखा- 'कुछ लोग न जाने क्‍यों अपना ईमान इस हद तक गिरा देते हैं, आस्‍था के चंदे और देश की रक्षा के सौदों में भी कमा लेते हैं।'

यूपी और उत्तराखंड में जनता सरकार से परेशान
बेराजगारी के मुद्दे को उठाते हए अखिलेश यादव ने कहा कि उत्तराखंड और उत्तर प्रदेश दोनों राज्यों में बेरोजगारी में लगातार बढ़ती जा रही है। दोनों राज्यों में जबसे भाजपा की सरकार बनी है, महंगाई और भ्रष्टाचार का बोलबाला है। स्वास्थ्य सेवाएं बदहाल हैं। महिलाओं का सम्मान के साथ जीना दूभर हो गया है। दोनों प्रदेशों में किसानों के साथ अन्याय हो रहा है। व्यापारी परेशान है। नौजवानों का भविष्य अंधकारमय है।

झूठ और नफरत की सियासत करती है भाजपा
अखिलेश यादव ने भाजपा की सोच पर सवा उठाते हुए कहा कि भाजपा का लोकतांत्रिक मूल्यों के प्रति शुरू से ही अनादर का भाव रहा है। लोकतंत्र की हत्या में भाजपा कोई कसर नहीं छोड़ी है। झूठे वादों और नफरत फैलाने की उसकी राजनीति ने समाज को बांटा है और सद्भाव को बिगाड़ने का काम किया है। जनता को गुमराह करके ही भाजपा सत्ता में आई है और आज भी वह उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी के कामों को ही अपना बताकर भ्रम फैला रही है।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव