विवाहिता की संदिग्धावस्था में मौत, मायके पक्ष ने लगाया हत्या का आरोप


 सेउता (सीतापुर)।
थाना क्षेत्र रेउसा के अन्तर्गत एक गांव में विवाहिता की संदिग्धावस्था में मौत हो गयी। मायके पक्ष ने मार डालने का आरोप लगाया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को सीलकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। थाना क्षेत्र के ग्राम गुड़रुवा के ललित कुमार उम्र 32 वर्ष पुत्र महेश्वर यादव की शादी विगत 6 वर्ष पूर्व रेशमा देवी उम्र 30 वर्ष पुत्री रामप्रकाश ग्राम समसिन पुरवा मजरा सेवता थाना रेउसा के साथ हुई थी। मायके पक्ष का आरोप है कि ससुरालीजनों द्वारा दहेज के लिए रेशमा देवी को आये दिन प्रताडि़त करते रहते थे। शुक्रवार की सुबह रामप्रकाश को सूचना मिली कि उनकी लड़की रेशमा देवी की मौत हो गई है। रेशमा देवी की मौत की खबर सुनकर मायके वालों ने मौके पर पहुँचे संदिग्धावस्था में हुई मौत से रामप्रकाश ने थाने में सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर मायके वालों की तहरीर पर लाश का पंचनामा भरकर शव पोस्टमार्टम के लिए जिला पोस्टमार्टम हाउस के लिए भेज दिया। लड़की के ससुराल वालों का कहना है कि लड़की की मौत बीमारी के कारण हुई है। मिली जानकारी के अनुसार विगत तीन दिनों से लड़की को उसका पति व ससुर से बराबर विवाद हो रहा था। रेशमा देवी ने पारिवारिक प्रताडना से तंग होकर कोई जहरीला पदार्थ खाकर आत्महत्या की है। वहीं मायके की तरफ  से दी गई तहरीर में तीन लोगों को नामजद करते हुए कहा है कि ससुराल वालों ने होन्डा मोटरसाइकिल की मांग की थी। मांग पूरी न होने के कारण मेरी लड़की रेशमा देवी को मार डाला गया है। मृतक के पिता ने दी गई तहरीर में आरोप लगाया है कि दस दिन पूर्व में भी दहेज मांग को लेकर मेरी लड़की रेशमा को मार पीट कर घर से भगा दिया था। उसके बाद मृतक रेशमा देवी को समझाकर भेज दिया था। पुलिस तहरीर के आधार पर कार्रवाई करने की बात कह रही है।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव