थाने से चंद कदम दूर युवक की दिन दहाड़े गोली मारकर हत्या

 



शाहाबाद हरदोई।
सोमवार की सुबह बस स्टेण्ड पर एक युवक ने दिनदहाड़े अंग्रेजी शराब की दुकान के पास दूसरे युवक को गोली मार दी जिससे वहां अफरा तफरी मच गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने घायल युवक को सीएचसी में भर्ती कराया। युवक की हालत गम्भीर होने के चलते उसे डॉक्टरों ने जिला अस्पताल रिफर कर दिया। जहां जिला अस्पताल लाते समय उसकी रास्ते में मौत हो गयी। बस स्टैंड के पास अंग्रेजी शराब के ठेके के पास अनस उम्र 19 वर्ष पुत्र शकील निवासी मोहल्ला महमंद को गोली मारी गयी। गोली लगने से वह गम्भीर रूप से घायल हो गया। मौके पर पहुंची पुलिस ने युवक को खून से लथपथ अवस्था में सीएचसी में भर्ती कराया। हालत गंभीर होने के चलते घायल अनस को जिला अस्पताल रिफर कर दिया गया। मृतक के पिता ने अपनी पुत्री के ससुर व उनके तीन पुत्रों पर गोली मारने का आरोप लगाया है। पुलिस पूरे मामले में जांच पड़ताल करने में जुटी है। शाहाबाद कोतवाली के मोहल्ला महमंद निवासी अनस शाहाबाद कस्बा में बस स्टॉप के पास अंडे की दुकान लगाता था। पिता शकील अली ने बताया कि उन्होंने अपनी पुत्री सोएबा की 4 वर्ष पहले कोतवाली क्षेत्र के हर्रई गांव निवासी मोइन खान के बेटे टीटू उर्फ मुदस्सिर के साथ शादी की थी। शादी के दो साल बाद पति-पत्नी में विवाद हो गया। जिसके बाद से पुत्री के ससुराली जन उसे विदा कराने नहीं आ रहे थे। इसी का मामला न्यायालय में विचाराधीन है। उनका आरोप है इसी बात से खफा होकर सोमवार को मुदस्सिर के पिता मोइन खान ने फोन पर उन्हें बताया कि अपनी बेटी को तत्काल अभी बस अड्डे के पास भेज जाओ, वरना अपने बेटे की लाश ले जाना। इस बात को सुनकर अनस के पिता सन्न रह गए। आनन-फानन में अपने बस स्टॉप पर पहुंचे। उनका कहना है तब तक हमलावर अनस को गोली मारकर मौके से फरार हो गए। आनन-फानन में शकील अली अपने बेटे अनस को लेकर जिला अस्पताल, हरदोई पहुंचे। जहां पर डॉक्टर ने मृत घोषित कर दिया। इससे परिजनों में मातम पसर गया। इस पूरे मामले की जानकारी पुलिस विभाग के उच्च अधिकारियों को हुई। शहर पुलिस को भी सूचना दी गई। पुलिस अधीक्षक अजय कुमार ने कहा कि इस घटना में शामिल सभी हमलावरों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव