हरदोई: बाजार में धड़ल्ले से बिक रहा मिलावटी सरसों का तेल

 


पुरानी गल्ला मंडी एवं इस्लामगंज बना नकली सरसों तेल का हब

शाहाबाद। मिलावटी सरसों के तेल का कारोबार तेजी से बढ़ रहा है। मिलावटखोर हजारों लीटर मिलावटी तेल बाजार में बेच रहे हैं। खाद्य व आपूर्ति विभाग को ही नहीं, बल्कि खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन के आला अफसरों को भी इसकी पूरी जानकारी है। बावजूद इसके मिलावटखोरों पर कार्रवाई न के बराबर की जा रही है। वहीं डॉक्टरों का कहना है कि इस मिलावटी तेल का लगातार इस्तेमाल करने से जान तक जा सकती है। बाहर से टैंकरों में आने वाले घटिया और सस्ते राइस ब्रान (धान की भूसी का तेल) में मस्टर्ड की सुगन्ध वाला एसेन्स डाला जाता है। रंग निखारने के लिए उसमें हानिकारक बटर यलो मिलाया जाता है। इसके बाद मिलावटी सरसों के तेल को सस्ते दाम में कारोबारियों तक पहुंचा दिया जाता है। 15 किलो के सरसों के डिब्बे पर 1500 रुपए का मुनाफा होने की वजह से दुकानदार भी इसे खरीदकर बिक्री करने में दिलचस्पी दिखा रहे हैं। मिलावट का यह पूरा कारोबार जिला मुख्यालयों और इसके आस-पास के नगरों में भारी मात्रा में धान की भूसी से तेल (राइस ब्रान) निकालने का धंधा चलता है। बड़े कारोबारी अपने टैंकरों के जरिए राइस ब्रान को विभिन्न स्थानों के व्यापारियों तक पहुंचाते हैं। टैंकर से आने वाला यह घटिया राइस ब्रान तेल 50 से 60 रुपए किलो में मिलता है, जबकि ब्रांडेड और अच्छा सरसों का तेल थोक में 150 से 170 रुपए किलो पड़ता है। राइस ब्रान तेल गोदाम में पहुंचने के बाद मिलावट का खेल हर जिले में अवैध फैक्ट्रियों में होता है जिसमें कई कारोबारियों के गोदाम में दिन-रात चलता रहता है। प्रदेश में मिलावटखोर अपने गोदामों पर दूर-दराज से आने वाले मजदूरों को इस काम के लिए रखते हैं। यह मजदूर घटिया राइस ब्रान में मस्टर्ड की सुगन्ध वाला एसेन्स और बटर यलो मिलाकर इसे सरसों के तेल की तरह तैयार करते हैं। इसके बाद इसकी पैकेजिंग और लेबलिंग का काम किया जाता है। हालांकि तीन दिन पहले शाहाबाद की “कुमार मॉडर्न राइस मिल“ पर खाद्य विभाग की बड़ी कार्यवाही हुई। लगभग दो लाख का 14 कुंतल राइस ब्रान आयल सीज किया गया था।  खाद्य सुरक्षा अधिकारी सतीश कुमार ने बताया की जिलाधिकारी के निर्देश पर विशेष अभियान चलाया जा रहा है जिसमे जनपद मे अन्य स्थानो पर भी छापे की कार्यवाही की जाएगी। 


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव