अमेरिका की कैलीफोर्निया यूनिवर्सिटी में शिक्षण का दायित्व संभालने से पहले सी.एम.एस. छात्र ने लिया डा. जगदीश गाँधी से आशीर्वाद


 लखनऊ,
4 जुलाई। सिटी मोन्टेसरी स्कूल, अशर्फाबाद कैम्पस एवं गोमती नगर (प्रथम कैम्पस) के छात्र रह चुके डा. आदिल उस्मान ने विश्व की प्रतिष्ठित यूनिवर्सिटी आॅफ कैलीफोर्निया, सांताक्रूज में शिक्षण का दायित्व निभाने हेतु अमेरिका रवाना होने से पूर्व अपने प्रेरणास्रोत व मार्गदर्शक सी.एम.एस. संस्थापक डा. जगदीश गाँधी से मिलकर उनका आशीर्वाद प्राप्त किया एवं स्कूली शिक्षा के दौरान सी.एम.एस. द्वारा प्रदान की गई उत्कृष्ट शिक्षा, जीवन मूल्य एवं व्यक्तित्व विकास के प्रयासों हेतु सी.एम.एस. का हार्दिक आभार व्यक्त किया। डा. आदिल उस्मान ने देश-विदेश में अपनी उपलब्धि का सम्पूर्ण श्रेय डा. जगदीश गाँधी के प्रेरणादायी विचारों को दिया है। 

सी.एम.एस. के मुख्य जन-सम्पर्क अधिकारी श्री हरि ओम शर्मा ने बताया कि सी.एम.एस. के पूर्व छात्र आदिल उस्मान राष्ट्रीय व अन्तर्राष्ट्रीय उपलब्धियों से देश का गौरव सारे विश्व में बढ़ा रहे हैं। आदिल को अभी हाल ही में भारतीय प्रोद्योगिकी संस्थान (आई.आई.टी.), मंडी, हिमाचल प्रदेश द्वारा डाक्टर आॅफ फिलाॅसफी (पी.एच.डी.) की डिग्री से नवाजा गया है। इसके अलावा, डा. आदिल को यूनिवर्सिटी आॅफ कैलीफोनिर्या, सांताक्रूज, में पोस्ट डाक्टरल इम्पलायी कम टीचिंग स्टाफ हेतु नियुक्त किया गया है, जो कि 22 जुलाई से अपना कार्यभार संभालेंगे।

श्री शर्मा ने बताया कि आदिल उस्मान ने अपनी सम्पूर्ण स्कूली शिक्षा सी.एम.एस. से पूरी की है। इन्होंने कक्षा-8 तक की शिक्षा सी.एम.एस. अशर्फाबाद कैम्पस से एवं कक्षा-9 से 12 तक की शिक्षा सी.एम.एस. गोमती नगर (प्रथम कैम्पस) से पूरी की। इसके उपरान्त वर्ष 2011 में बी.टेक एवं वर्ष 2013 में एम.टेक. डिस्टिंक्शन के साथ प्रथम श्रेणी में उत्तीर्ण की। आदिल उस्मान वर्तमान में पाॅवर एण्ड एनर्जी सोसाइटी एवं इलेक्ट्रिकल मशीनरी कमेटी के सदस्य हैं। इसके अलावा, भारत, कैमरून एवं पेरू में स्मार्ट विलेज आपरेशन्स का कार्य भी देख रहे हैं। आदिल संयुक्त राष्ट्र संघ में भारत से एक युवा प्रतिनिधि के रूप में शामिल हो चुके हैं।

सी.एम.एस. संस्थापक व प्रख्यात शिक्षाविद् डा. जगदीश गाँधी ने डा. आदिल उस्मान को देश व विश्व की महत्वपूर्ण सेवा हेतु हार्दिक बधाईया देते हुए उनके अत्यन्त उज्जवल भविष्य की कामना की। डा. गाँधी ने विद्यालय के शिक्षकों का भी आभार व्यक्त किया, जिनकी मेहनत, लगन व कर्तव्यनिष्ठा की बदौलत सी.एम.एस. छात्र सारे विश्व में देश का नाम रोशन कर रहे हैं।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक