आपातकाल की स्थिति पैदा कर रही है केन्द्र सरकार : आशीष

 


मीडिया संस्थानों पर ईडी व आईटी छापे के विरोध में मौन सत्याग्रह

सीतापुर। मीडिया संस्थानों पर ईडी व आईटी के छापे से नाराज सोशल एक्टिविस्ट एवं पूर्व पालिकाध्यक्ष आशीष मिश्रा ने अधिवक्ताओं व सामाजिक संगठनों संग मौन सत्याग्रह किया। प्रदर्शनकारी लालबाग चैराहें पर तख्तियाँ लेकर एक घण्टे तक बैठे रहें। श्री मिश्रा ने कहा कि मीडिया संस्थानों पर इस तरह के छापे डलवा कर केन्द्र सरकार देश में अघोषित आपातकाल की स्थिति पैदा कर रही है। सच्ची पत्रकारिता से सरकार को डर क्यों लगता है? कोरोना काल में जनता के दर्द की सही तस्वीर सामने लाने वाले मीडिया संस्थानों को अनावश्यक दबाने का प्रयास हो रहा है, जबकि खुद सरकार सड़क से सदन तक तमाम मुद्दो पर घरी हुयी है। केन्द्र सरकार के कार्यो पर प्रश्नचिन्ह लगाने वाली इस कार्रवाई से समूचे देश में उबाल है। सामाजिक कार्यकत्री सविता वाल्मीकि ने कहा कि भारत के चैथे स्तम्भ को दबाने का मलतब है कि सरकार तानाशाह हो गयी है। ईडी व आईटी संस्थाएं सरकार के इशारे पर सच को दबाने का प्रयास कर रही है। उन्होंने कहा कि कोरोना काल के दौरान देश में हुई मौतो के सही आंकड़ो को छिपाया जा रहा है। इस दौरान दर्जनो लोग हाथो में तख्तियाँ लेकर लालबाग चैराहें पर बैठे रहें। पूर्व पालिकाध्यक्ष आशीष मिश्रा ने मांग की है कि मीडिया संस्थानों पर इस तरह के छापे तत्काल सरकार को बंद कर देने चाहिये, मीडिया को स्वतंत्र रूप से कार्य करने की इजाजत दी जानी चाहिये। इस मौके पर संतोष मिश्रा, किशोरीलाल, सुधीर कुमार, श्रीकांत बाजपेयी, पंकज कुमार, आदित्य कुमार गुप्ता, कांती प्रकाश, अमित श्रीवास्तव, आकाश मिश्रा, धन्ना सिंह, सुदेश कुमार सहित अन्य कार्यकर्ता मौजूद रहें। 


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव