योगी ने koo ऐप के जरिए भेजा अपना पहला संदेश, जाने क्या कहा?

 


भारत सरकार और ट्विटर में टकराव के बीच मार्च के महीने में उत्तर प्रदेश के मुखिया योगी आदित्यनाथ ने अपना अकाउंट स्वदेशी इंटरनेट मीडिया साइट 'कू' पर खोला था। सीएम योगी आदित्यनाथ ने अपना एकाउंट 'कू' पर खोल कर सोशल मीडिया के इस नए प्लेटफार्म पर धमाकेदार उपस्थिति दर्ज कराई थी और महज पांच दिन में तकरीबन 51,000 'कू' यूजर्स ने उनको फॉलो भी करना शुरू कर दिया। अब सीएम योगी ने कू ऐप के जरिए भेजा अपना पहला संदेश भेजा है। 

CM ने क्या संदेश दिया

सीएम योगी ने कू ऐप के अपने संदेश में लिखा 'गाजीपुर में मां गंगा की लहरों पर तैरते संदूक में रखी नवजात बालिका गंगा की जीवन रक्षा करने वाले नाविक ने मानवता का अनुपम उदाहरण प्रस्तुत किया है। नाविक को आभार स्वरूप सभी पात्र सरकारी योजनाओं से लाभान्वित किया जाएगा।  

गंगा में मिली बच्ची

ददरी घाट पर गंगा किनारे एक लकड़ी के बक्से से बच्चे के रोने की आवाज आई। मल्लाह गुल्लू ने आवाज सुनी और पास जाकर देखा तो बक्से में एक बच्ची रो रही थी। इस दौरान मौके पर लोग भी जुट गए। गंगापुत्र की तरफ से किए गए कार्य को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने संज्ञान में लिया है। यूपी सरकार ने बच्ची के पालन पोषण की जिम्मेदारी ली।  

गौरतलब है कि माइक्रो- ब्लॉगिंग ऐप कू पर देश की तमाम बड़ी राजनीतिक पार्टियों ने अपने अकाउंट बनाना शुरू कर दिया।  ऐप पर बीजेपी के अलावा कांग्रेस पार्टी, एनसीपी, शिव सेना, भीम आर्मी, बहुजन समाज पार्टी, समाजवादी पार्टी और जदयू से जुड़े नेताओं ने भी अपना सोशल मीडिया अकाउंट बनाया है। 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव