मनरेगा महामारी की तरह,इसमे सुधार व सरलीकरण हो अन्यथा कर दिया जाए बन्द:भाजपा विधायक

 


हरदोई।गोपामऊ के भाजपा विधायक श्यामप्रकाश ने मनरेगा प्रक्रिया पर सवालिया निशान लगा दिए है और अपनी फेसबुक पोस्ट पर लिखा है कि यह एक महामारी की तरह हो गयी है।इसमे सुधार व सरलीकरण हो अन्यथा बन्द कर दिया जाए।

      सोशल मीडिया पर बेबाक टिप्पणी के लिए चर्चित गोपामऊ से भाजपा के विधायक श्यामप्रकाश अक्सर सोशल मीडिया पर विभिन्न विन्दुओ पर स्पष्ट टिप्पणी को लेकर अक्सर चर्चा में रहते है।उन्होंने एक अखबार में छपी खबर को अपने फेसबुक पेज पर पोस्ट किया है जिसमे उन्होंने लिखा है कि "मनरेगा एक महामारी  की तरह हो गई है, इसमे सरलीकरण और सुधार किया जाये अथवा बन्द करदिया जाये।। अधिकारी बिना कमीशन काम करते नही । कमीशन देने के लिए प्रधानों को फर्जी जॉब कार्ड से  कराना पड़ता है भुगतान । समय पर भुगतान न होने के कारण लोग काम करने को तैयार नही"
      श्याम प्रकाश ने एक बार फिर विवादित बयान जारी कर सरकार को कटघरे में खड़ा कर दिया है।इससे पहले बीजेपी विधायक श्याम प्रकाश ने ट्वीट कर कहा था कि मैंने अपने राजनीतिक जीवन में इतना भ्रष्टाचार नहीं देखा जितना इस समय देख और सुन रहा हूं।उन्होंने कहा कि जिससे शिकायत करो वह खुद वसूली कर लेता है।श्याम प्रकाश के इस बयान ने अपनी सरकार पर आरोप लगाकर विवाद खड़ा कर दिया।बता दें कि अक्सर विवादित बयानों के चलते सुर्ख़ियों में रहने वाले हरदोई जनपद की गोपामऊ सुरक्षित सीट से भाजपा विधायक श्याम प्रकाश ने महामारी कोरोना वायरस से जंग में पहले विधायक निधि से 25 लाख रुपये दिए लेकिन जब और फंड जुटाने के लिए सरकार ने विधायक व सांसद निधि में कटौती का प्रस्ताव पास किया तो इन्होंंने अपने धन का सही उपयोग न होने का आरोप लगाकर जिला प्रशासन से धन वापस करने की मांग कर डाली।मामला जब मीडिया की सुर्ख़ियों में आया और इनकी जमकर फजीहत हुई और अब सार्वजनिक रूप से बयानबाजी करने के कृत्य के लिए भारतीय जनता पार्टी ने नोटिस जारी कर इनसे जवाब तलब किया था।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव