आईजी जोन की सर्विलांस टीम के सहयोग से पकड़ा गया पंद्रह हजार का इनामी

 


हरदोई। क्राइम ब्रांच ने आईजी जोन के सर्विलांस टीम के सहयोग से 2 साल से अधिक समय से धोखाधड़ी के मामले में वांछित चल रहे हैं 15 हजार के इनामी को गिरफ्तार किया है। आजमगढ़ का रहने वाला यह शातिर लखनऊ में रह रहा था।

      शहर कोतवाली इलाके के न्यू सिविल लाइन निवासी नमीश जवरानी ने शहर कोतवाली में एक मुकदमा पंजीकृत कराया था जिसमें उसने बताया था कि उसके दोस्त अविनाश सिंह पुत्र रामासरे निवासी नरसिंहपुर थाना महेश नगर जनपद आजमगढ़ जो हाल पता ग्रीन टुडे अपार्टमेंट लखनऊ में रह रहा है ने बाराबंकी में फर्जी काल्पनिक व्यक्ति रामशरण के नाम से करोड़ों रुपए की जमीन का बैनामा करा है। इस पूरे मामले की विवेचना क्राइम ब्रांच में तैनात इंस्पेक्टर संतोष कुमार तिवारी कर रहे थे।क्राइम ब्रांच इंस्पेक्टर ने आईजी जोन की सर्विलांस टीम के प्रभारी अमर सिंह रघुवंशी व उनकी टीम के सहयोग से अविनाश सिंह को गिरफ्तार किया है।उसके ऊपर 15 हजार का इनाम भी घोषित हुआ था।
      मामले की जानकारी देते हुए अपर पुलिस अधीक्षक अनिल कुमार ने बताया कि पुलिस लगातार इसकी तलाश कर रही थी और संभावित ठिकानों पर दबिशें दी जा रही थी।इसकी गिरफ्तारी में आईजी जोन की सर्विलांस सेल की टीम ने भी सक्रियता निभाई और इसे गिरफ्तार किया गया है।एएसपी ने आरोपित युवक को मीडिया के सामने लाकर मामले का खुलासा किया उसके बाद उसे जेल भेज दिया गया है।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक