लोगो के घरों में तेजी के साथ प्रवेश कर रहा बाढ़ का पानी


 प्रशासन के दावे हुए फेल, फिर चमकी बदइंजामी

शारदा की कटान से मच रही तबाही

रेउसा सीतापुर । क्षेत्र में सोमवार उफनाई घाघरा और शारदा नदियों के बाढ़ का पानी करीब आधा दर्जन मजरों के नाला व नालियों में बहने लगा है साथ ही नदियों के कटान करने का सिलसिला तेज गति से चल रहा है ।घाघरा नदी ने तटवर्ती गांवों के लगभग डेढ़ दर्जन घरों को काट कर समाप्त कर दिया और दो दर्जन से अधिक घरों पर कटान का खतरा मंडरा रहा है । तेज गति से चल रहे कटान को देखकर ग्रामीण भयभीत होकर अपने घरों को   तोड़कर छप्पर ईट इत्यादि घरेलू सामग्रियों को ट्रैक्टर ट्राली में भरकर सुरक्षित स्थानों की तरफ पलायन कर रहे हैं। इसके अलावा दो एकड़  मेंथा लगे खेत कट कर समाप्त हो गए। गांवों को कटान से बचाने के लिए सिंचाई विभाग द्वारा कच्छप गति से बनाए जा रहे बंबू स्टेप ब लगातार कट कर घाघरा नदी में समाप्त हो जा रहे हैं । कटान पीड़ितों का कहना है कि अगर यह निर्माण कार्य  नदियों के उफान से पहले हो गया होता तो गांवों को कटान से बचाया जा सकता था। गोलोक कोडर के फौजदार पुरवा में राधा  बेवा संतराम नन्नू देशराज राधेश्याम राजू अनुग्रह प्रसाद अनिल हीरालाल सोहनलाल दिनेश सुशील सुशील बालक राम अरविंद कुमार उमा निवास राम मूरत आदि के घर तेज गति से हो रहे कटान के चलते घाघरा नदी में कट कर समाप्त हो गए । वहीं कमलेश  जिमीदार लक्ष्मी नारायण रामचंद्र राजकुमार मथुरा श्यामलाल परमेश्वर पुरवा के हरिहर मनोज कुमार रामा धीरज सकटू लालाराम रामनरेश गयादीन रामचंद्र यादव चक्कर राजपूत आदि के घर कटान के मुहाने पर पहुंच चुके हैं । शारदा नदी का पानी मेउड़ी छोलहा में पूर्व प्रधान स्व0 अजीज के घर के सामने नाले में भर रहा है ।इसी तरह बढ़ता रहा तो देर रात तक गाँव में प्रवेश कर जाएगा ।वहीं ताहपुर के उत्तर नई बस्ती श्रीराम पुरवा के निकट नाले में बाढ़ का पानी गिर रहा है । फौजदार पुरवा व गौढी में जवाहरलाल जनक लाल हीरालाल रामसिंह साधू किशोरी भिखारी लाल मिल्खी दिनेश कुमार संतोष हीरालाल की कृषि योग्य भूमि कट रही है ।जटपुरवा में छेद्दू मोबीन फारूक शफीक मंझिले के घर नदी के मुहाने पर हैं ।लेकिन नदी के किनारे बनाये जा रहे तटबंध से कुछ राहत देखी जा रही है । एसडीएम बिसवां अनुपम मिश्रा ने बताया कि  नदियों का जल स्तर तेजी से बढ़ रहा है तटवर्ती इलाके के ग्रामीणों को सचेत कर दिया गया है कि राहत शिविरों में चले जायें ।उनके खाने पीने की समुचित व्यवस्था करा दी गई है ।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव