गर्भवती दिव्यांग महिला को पीटा,पुलिस नही दर्ज कर रही एफआइआर

 


-शहर कोतवाली पुलिस पर दिव्यांग महिला ने लगाए आरोप

-पति के साथ एसपी के पास पहुंची महिला ने दिया शिकायती पत्र
-चुनावी रंजिश में महिला के भतीजे को पीट रहे थे लोग
-एसपी ने मामले में जांच व कार्यवाई के दिये निर्देश
-शहर कोतवाली क्षेत्र के सरैगा गांव की है महिला
हरदोई।शहर कोतवाली क्षेत्र के सरैगा गांव की एक गर्भवती दिव्यांग महिला ने अपने ही गांव के कुछ लोगों पर पिटाई का आरोप लगाया है।महिला का आरोप है कि उसकी शहर कोतवाली पुलिस एफआईआर नही लिख रही है।पीड़ित महिला ने एसपी से मामले में कार्यवाई की गुहार लगाई है।महिला का कहना है कि चुनावी रंजिश में उसके भतीजे को पीटा जा रहा था जिसे वह बचाने के लिए चिल्लाई थी।
     शहर कोतवाली क्षेत्र के सरैगा गांव निवासी शीला कुमारी पत्नी बागेश ने आरोप लगाया है कि वह दिव्यांग है और गर्भवती है।आरोप है कि 1 जून को उसके पति के भतीजे सूरज को चुनावी रंजिश में  रामशरन मनोरमा अमित मनोज जोगिंदर लात घूसों से मारपीट रहे थे।आरोप है कि जब उसने देखा तो उसने शोर मचाया।इसके बाद यह लोग उसके घर मे घुस आए और उसके साथ मारपीट की।वह 8 माह की गर्भवती है और पिटाई से उसका खून निकल गया है जिससे उसको अपने गर्भस्थ शिशु  को खतरा है।महिला का कहना है कि वह उसी रात कोतवाली गयी जहां से उसका डॉक्टरी परीक्षण कराया गया लेकिन एफआइआर दर्ज नही की गई है।महिला ने एसपी से मिलकर मामले में एफआईआर दर्ज कराने की गुहार लगाई है।एसपी ने मामले में कार्यवाई के निर्देश दिए है।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक