दौरे पर आयी राज्यमंत्री स्वाती सिंह ने की विकास कार्यो की समीक्षा


 सीतापुर ।
जनपद के एक दिवसीय दौरे पर आयी मा0 राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार), बाल विकास सेवा एवं पुष्टाहार, महिला कल्याण, उत्तर प्रदेश श्रीमती स्वाती सिंह ने विकास खण्ड कार्यालय सिधौली एवं गोंदलामऊ के सभागार में विकास कार्यों की समीक्षा बैठक की। मा0 प्रभारी मंत्री ने निर्देश दिये कि शासन द्वारा संचालित योजनाओं का अधिक से अधिक लाभ जनता को मिले यह सुनिश्चित किया जाये। उन्होंने पंचायतों में पेयजल की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित करने के निर्देश दिये तथा हैण्डपम्पों के क्रियाशीलता की स्थिति की भी समीक्षा की। रिबोर एवं मरम्मत योग्य हैण्डपम्पों को तत्काल ठीक कराये जाने के निर्देश दिये। लघु सिंचाई विभाग के अधिकारियों से करायी गयी बोरिंग की सूची भी तलब की तथा संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिये कि उपलब्ध करायी गयी सूची का सत्यापन करायें। विद्युत नलकूपों के संचालन एवं मरम्मत की स्थिति की समीक्षा की। सामुदायिक शौचालयों के क्रियान्वयन एवं साफ-सफाई की स्थिति की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि ग्राम प्रधान अपने क्षेत्र में स्थित सामुदायिक शौचालयों का क्रियान्वयन शासनादेश के प्राविधानों के अनुसार कराया जाना सुनिश्चित करायें तथा संबंधित अधिकारी इसका नियमित रूप से निरीक्षण करें। बाल विकास पुष्टाहार विभाग द्वारा वितरित किये जा रहे राशन के वितरण की स्थिति की समीक्षा की तथा दाल इत्यादि के खरीद के विषय में भी समीक्षा की। उन्होंने कहा कि पात्रों को समय से वितरण सुनिश्चित कराया जाये। उन्होंने कहा कि राशन वितरण अत्यन्त आवश्यक है इसलिये इसमें किसी भी प्रकार का विलम्ब न किया जाये। उन्होंने कहा कि स्वयं सहायता समूहों द्वारा वितरित किये गये राशन का सत्यापन भी कराया जाये। उन्होंने चेतावनी देते हुये कहा कि लापरवाही करने वालों अथवा गलत सूचना प्रस्तुत करने वाले अधिकारियों के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही की जायेगी।  उन्होंने आवास वितरण की समीक्षा करते हुये निर्देश दिये कि जनप्रतिनिधियों के माध्यम से वितरण कार्य का सत्यापन कराया जाये। उन्होंने खण्ड विकास अधिकारियों को निर्देश दिये कि क्षेत्र में सर्वे कर ही पात्रों का नाम सम्मिलित किया जाये। कोरोना वायरस महामारी के दौरान नये जाॅब कार्डों के जारी किये जाने की स्थिति की भी समीक्षा की तथा निर्देश दिया कि लम्बित आवेदनों का त्वरित निस्तारण सुनिश्चित किया जाये तथा मांग के अनुसार पात्रों को रोजगार उपलब्ध कराया जाये। जाॅब कार्ड जारी करने का कार्य पूरी पारदर्शिता के साथ सुनिश्चित किया जाये। तालाबों की स्थिति की समीक्षा भी की। प्रभारी मंत्री ने निर्देश दिये कि लक्ष्य के अनुरूप वृक्षारोपण कार्यों को पूर्ण कराया जाये तथा लगाये गये पौधों को संरक्षण प्रदान करते हुये सर्वाइवल रेट में वृद्धि की जाये। गत वृक्षारोपण के सर्वाइवल रेट की भी समीक्षा की एवं कम सर्वाइवल रेट पर संबंधित अधिकारियों को फटकार लगाते हुये चेतावनी दी कि लापरवाही पाये जाने पर कड़ी कार्यवाही की जायेगी। प्रभारी मंत्री श्रीमती स्वाती सिंह ने लाभार्थीपरक योजनाओं की समीक्षा करते हुये निर्देश दिये कि पेंशन योजना के लाभार्थियों का सत्यापन कराया जाये। मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना के अन्तर्गत लाभान्वित किये जाने के कार्यों की भी समीक्षा की। प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना एवं अन्त्योदय योजना के अन्तर्गत पूरी पारदर्शिता के साथ राशन वितरण कराये जाने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि अन्त्योदय योजना के अन्तर्गत लम्बित आवेदनों का त्वरित निस्तारण सुनिश्चित किया जाये। कोटेदार द्वारा वितरित किये जा रहे राशन वितरण की क्रास चेकिंग भी कराये जाने के निर्देश दिये। घटतौली करने वाले अथवा निर्धारित मात्रा से कम मात्रा में राशन देने वाले कोटेदारों को चिन्हित करते हुये उनके विरूद्ध कड़ी कार्यवाही के निर्देश् दिये। खण्ड विकास अधिकारियों, नायब तहसीलदारों एवं अन्य सभी संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिये कि नियमित रूप से सार्वजनिक वितरण प्रणाली की दुकानों का नियमित रूप से निरीक्षण करें। उन्होंने निर्देश दिये कि राशन वितरण यदि पंचायत या गांव से दूर हो रहा है तो उसके नजदीक वितरण हेतु त्वरित व्यवस्था सुनिश्चित की जाये। किसान सम्मान के अन्तर्गत लाभ वितरण की भी समीक्षा की। यूरिया की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित कराये जाने के निर्देश दिये।  प्रभारी मंत्री श्रीमती स्वाती सिंह ने पुलिस क्षेत्राधिकारी को निर्देशित किया कि प्रतिदिन थानों का निरीक्षण करें तथा सुलह समझौते के माध्यम से निस्तारण योग्य प्रकरणों का स्थानीय स्तर पर निस्तारण सुनिश्चित करायें, जिससे अनावश्यक रूप से वादों की संख्या न बढ़े तथा जनता मानसिक एवं आर्थिक रूप से प्रताड़ित न हो। पुलिस कर्मी जनता के साथ जनता की समस्याओं को सुनकर उनका नियमों के अन्तर्गत त्वरित निस्तारण सुनिश्चित करायें। लापरवाही करने वालों पर उचित कार्यवाही तत्काल की जाये।  इस दौरान मुख्य विकास अधिकारी अक्षत वर्मा, जिला विकास अधिकारी राकेश कुमार पाण्डेय, जिला कार्यक्रम अधिकारी राजकपूर सहित संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे।प्रभारी मंत्री ने सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र गोंदलामऊ का किया निरीक्षण प्रभारी मंत्री ने सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र गोंदलामऊ का निरीक्षण किया। उन्होंने निरीक्षण के दौरान वैक्सीनेशन कक्ष, आईसोलेशन वार्ड, भर्ती वार्ड, इमरजेंसी आदि का भी निरीक्षण किया। उन्होंने वैक्सीनेशन कराने आये लोगों से वार्ता कर लोगों को अधिक से अधिक को टीकाकरण करने के लिये प्रेरित किया।   इस दौरान मुख्य विकास अधिकारी अक्षत वर्मा, जिला विकास अधिकारी राकेश कुमार पाण्डेय सहित संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव