अब हाई कोर्ट के नये निर्देशों के अनुसार संचालित होगे न्यायलय


 सीतापुर ।
सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण ने बताया कि माननीय उच्च न्यायालय इलाहाबाद के पत्र दिनांक 15 जून 2021 के अनुपालन में जनपद न्यायाधीश अध्यक्ष, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण सीतापुर कुलदीप कुमार- के निर्देशानुसार, श्रीमती सुदेश कुमारी सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण सीतापुर द्वारा यह अवगत कराया गया कि कोरोना वायरस संक्रमण (कोविड-19) के प्रकोप को देखते हुए उच्च न्यायालय इलाहाबाद द्वारा जिला न्यायालय अधिकरणों तथा विशेष क्षेत्राधिकार प्राप्त न्यायालयों द्वारा की जाने वाली कार्य प्रणाली हेतु नवीन दिशा-निर्देश प्रकाशित करने हेतु निर्देशित किया गया है।  उक्त दिशा-निर्दश दिनांक 16.06.2021 से माननीय उच्च न्यायालय इलाहाबाद के अग्रिम आदेश तक लागू होगें। उक्त न्यायालयों में कार्य प्रणाली निम्न प्रकार से होगी।  जिला न्यायालय अधिकरण व विशेष क्षेत्राधिकार प्राप्त न्यायालय मा0 उच्च न्यायालय इलाहाबाद तथा मा0 हाई पावर कमेटी के दिशा निर्देशों के अधीन रहते हुए, अति आवश्यक मामलो में जैसे-लम्बित व नवीन जमानत प्रार्थना पत्र, रिलीज आर्डर, धारा 164 सी.आर.पी.सी. के तहत बयान का लेखबद्ध किया जाना, रिमान्ड कार्य, आवश्यक आपराधिक प्रीण वाद, लघुवाद तथा समय-समय पर हाई पावर कमेटी द्वारा दिये गये निर्देशों के अनुपालन में सम्बन्धित प्रकरणों तथा दीवानी प्रकृति के मामलों में अतिआवाश्यक प्रकरण जैसे-अति आवश्यक निषेधज्ञा प्रार्थना पत्र तथा नवीन वादों का संस्थापन आदि मामलों को स्थानीय आवश्यकता के आधार पर निर्धारित किया जायेगा। यदि उपयुक्त पाया जाता है तो मा0 जनपद न्यायाधीश महोदय की अनुमति प्रदान कर कार्यवाही की जा सकेगी। इसी क्रम में इस दौरान निस्तारित किये गये सभी वादों को सी.आई.एस. पर अपलोड किया जायेगा तथा मुख्यालय पर अधिक्तम 10 न्यायिक अधिकारीगण कार्य करेगें। अतः जनहित में सूचित किया जाता है कि उपरोक्त के सन्दर्भ में विस्तृत जानकारी हेतु जिला विधिक सेवा प्राधिकरण सीतापुर के स्टाफ व पी.एल.वी. श्री अशोक कुमार राना, लिपिक, 9415951332, श्री सलीम अहमद, डा.ए.आपरेटर, 9415978501 कु० दीपगगन, पी.एल.वी. 9807931488, व संध्या त्रिपाठी, पी.एल.वी. 6307014622 से सम्पर्क किया जा सकता है।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव