दो दिनों में 79 प्रतिशत से अधिक युवाओं ने लगवाई कोरोनारोधी वैक्सीन

 


कोविड टीकाकरण को लेकर युवाओं में दिख रहा गजब का उत्साह

सीतापुर। कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए चलाए जा रहे टीकाकरण अभियान में युवाओं के उत्साह का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि पहले दो दिनों में ही 79 प्रतिशत से अधिक युवाओं ने वैक्सीन की पहली डोज लगवा ली है। बीती एक जून से जिले में युवाओं अर्थात 18 से 44 साल की आयुवर्ग के लोगों को टीकाकरण लगाने का काम शुरू किया गया। जिले भर में युवाओं अर्थात 18 से 44 साल की आयुवर्ग के लोगों के टीकाकरण के लिए कुल 14 केंद्र बनाए गए हैं। जिनमें से जिला मुख्यालय पर चार विशेष केंद्र बनाए गए हैं। इसके अलावा मिश्रिख, महोली, सिधौली, बिसवां, महमूदाबाद, लहरपुर, खैराबाद और परसेंडी सीएचसी पर भी युवाओं का टीकाकरण किया जा रहा है। इन सभी केंद्रों पर बीते दोनों दिन युवाओं ने उत्साहपूर्वक कोरोना से बचाव की वैक्सीन लगवाई। सीएमओ डॉ. मधु गैरोला ने बताया कि बीते दो दिनों में 2800 के सापेक्ष्य कुल 2,227 युवाओं ने टीका लगवाया है। जिनमें से एक जून को 1400 के सापेक्ष्य 1,096 युवाओं ने और दो जून को 1400 के सापेक्ष्य 1,131 युवाओं ने टीका लगवा कर खुद को कोरोना से सुरक्षित करने की दिशा में एक कदम और बढ़ाया है। उन्होंने यह भी बताया कि युवाओं के साथ ही अन्य लोगों को भी पूर्व की ही तरह टीका लगाया जा रहा है। 18 से 44 साल की आयु वर्ग के लोगों के लिए जिला मुख्यालय पर चार विशेष कोविड वैक्सीनेशन सेंटर (सीवीसी) बनाए गए हैं। इन केंद्रों पर प्रतिदिन 50 लोगों को टीका लगाया जाएगा। टीकाकरण का काम पूरा होने के बाद इन विशेष टीकाकरण केंद्रों को दूसरे स्थलों पर आयोजित किया जाएगा। उन्होंने बताया कि विभिन्न अदालतों में कार्यरत 18 से 44 साल की आयु वर्ग के कर्मियों और अधिवक्ताओं के लिए सिविल कोर्ट में विशेष टीकाकरण केंद्र बनाय गया है। इसी तरह शिक्षक-शिक्षिकाओं के लिए राजकीय इंटर कॉलेज स्थित जिला विद्यालय निरीक्षक कार्यालय और बैंक कर्मियों के लिए एलडीएम कार्यालय पर यह विशेष टीकाकरण केंद्र बनाए गए हैं। इसके अलावा इसी आयुवर्ग के मीडिया कर्मी और सूचना विभाग के कर्मी जिला सूचना अधिकारी कार्यालय पर बनाए गए विशेष टीकाकरण केंद्र पर अपना पंजीकरण कराकर कोरोना से बचाव का टीका लगवा सकते हैं। जिले में दो अभिभावक स्पेशल कोविड वैक्सीनेशन सेंटर का गठन किया गया है। यह केंद्र सीतापुर आंख अस्पताल और रामकोट पीएचसी पर बनाए गए हैं। इन केंद्रों पर वह अभिभावक अपना टीकाकरण करा सकते हैं, जिनके बच्चों की उम्र 12 साल से कम और उनकी उम्र 18 से 44 साल के मध्य है। इसके लिए इन अभिभावकों को कोविन पोर्टल पर अपना पंजीकरण कराना होगा। इसके अलावा अभिभावकों को टीकाकरण के समय अपने साथ बच्चे की उम्र का कोई प्रमाण पत्र आधार कार्ड, जन्म प्रमाण पत्र अथवा अन्य कोई प्रमाण पत्र लाना होगा।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक