सी.एम.एस. छात्रों ने आॅनलाइन मनाया ‘इण्टरनेशनल मदर्स डे’


 लखनऊ
, 9 मई। सिटी मोन्टेसरी स्कूल के सभी 18 कैम्पस के छात्रों ने बड़े उत्साह व उमंग से आॅनलाइन ‘इण्टरनेशनल मदर्स डे’ मनाया एवं माताओं के प्रति अपने स्नेह व सद्भावना का प्रदर्शन किया। जहां एक ओर, सी.एम.एस. शिक्षकों ने प्रातःकालीन प्रार्थना सभा में छात्रों को मां की महिमा से अवगत कराया तो वहीं दूसरी ओर छात्रों ने कविता पाठ, भाषण,  लघु नाटिका, स्लोगन राइटिंग, थैंकयू कार्ड एवं विभिन्न आर्ट एण्ड क्राफट गतिविधियों व चित्रकारी के माध्यम से माताओं के प्रति अपना प्यार व आभार व्यक्त किया, साथ ही साथ बहुमुखी प्रतिभा व उत्कृष्ट विचारों का प्रदर्शन कर विद्यालय की अनूठी शिक्षा पद्धति का परचम लहराया। सी.एम.एस. की संस्थापिका-निदेशिका व प्रख्यात शिक्षाविद् डा. भारती गांधी ने इस अवसर पर अपने संदेश में सभी को मातृ दिवस की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि माँ अपने बच्चों के लिए भगवान समान होती है तथा उसकी महानता की व्याख्या असंभव है। सी.एम.एस. में बच्चों की माताओं का विशेष योगदान उन्हें सर्वगुण सम्पन्न बनाता है। उन्होंने अभिभावकों से अपील की कि बच्चों को घर में ईश्वरभक्ति से परिपूर्ण आध्यात्मिक एवं संस्कारित वातावरण उपलब्ध कराकर उनमें जीवन मूल्यों का विकास सुनिश्चित करें।

सी.एम.एस. के मुख्य जन-सम्पर्क अधिकारी श्री हरि ओम शर्मा ने बताया कि मातृ दिवस जैसे आयोजनों के माध्यम से छात्रों में दया, क्षमा, सच्चाई, ईमानदारी, परिश्रम और सेवा भावना जैसे ईश्वरीय गुणों को विकसित करना सी.एम.एस. की शिक्षा पद्धति का ही एक अंग है। श्री शर्मा ने कहा कि सी.एम.एस. का मानना है कि छात्रों के सर्वांगीण विकास का लक्ष्य स्कूल एवं अभिभावकों के सम्मिलित सहयोग से ही पूरा हो सकता है। भौतिक ज्ञान के साथ-साथ आध्यात्मिक व नैतिक ज्ञान की शिक्षा ही छात्रों को ‘टोटल क्वालिटी पर्सन’ बना सकती है और यही छात्र आगे चलकर सामाजिक उत्थान में अपनी भागीदारी सुनिश्चित करेंगे। उन्होंने अभिभावकों के सहयोग के प्रति हार्दिक धन्यवाद ज्ञापित करते हुए कहा कि प्रत्येक बच्चा परमात्मा का उपहार है और हमारा पूर्ण प्रयास है कि हर बच्चा समाज का प्रकाश बनें।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक