कोरोना से बचने के लिये टीका लगवाना जरूरी-:मिनिस्ती एस


 लहरपुर सरकारी अस्पताल का किया औचक निरीक्षण 

 तीसरी लहर की प्लानिंग पर दिया बल

सीतापुर आयुक्त वाणिज्यकर एवं जनपद की नोडल अधिकारी श्रीमती मिनिस्ती एस0 ने सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लहरपुर का आकस्मिक निरीक्षण कर व्यवस्थाओं को देखा। नोडल अधिकारी ने कोविड हेल्पडेस्क, वैक्सिनेशन कक्ष, लेबर रूम एवं अन्य वार्डों का निरीक्षण किया। उन्होंने टीकाकरण बढ़ाए जाने के निर्देश देते हुये कहा कि लोगो को टीकाकरण के प्रति जागरूक किया जाय। संस्थागत प्रसव की स्थिति की भी समीक्षा की। मरीजो का साप्ताहिक विवरण उम्र के साथ दर्ज किये जाने के भी निर्देश दिये। रात्रि में चिकित्सको की उपस्थिति सुनिश्चित किये जाने के निर्देश भी नोडल अधिकारी ने दिये। कोरोना वायरस की तीसरी लहर की चेतावनी के दृष्टिगत प्लानिंग करते हुये रणनीति तैयार किये जाने के भी निर्देश दिये। स्वास्थ्य केंद्र में आवश्यक दवाओं की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित करने हेतु भी निर्देशित किया। नोडल अधिकारी ने लहरपुर नगर पालिका क्षेत्र में बनाये गए कंटेन्मेंट जोन का किया निरीक्षण कंटेन्मेंट जोन के निरीक्षण के दौरान नोडल अधिकारी ने निर्देश दिये कि कंटेन्मेंट जोन के प्राविधानों का कड़ाई से पालन सुनिश्चित किया जाय। उन्होंने कोरोना वायरस से प्रभावित लोगों की नियमित जाँच कराये जाने एवं ऑक्सीजन की उपलब्धता सुनिश्चित किये जाने के निर्देश दिये। साथ ही स्वच्छता एवं सेनिटाइजेशन हेतु पर्याप्त प्रबंध हेतु निर्देशित किया। निगरानी समितियों के सदस्यों से वार्ता करके लोगों को अधिक से अधिक टीकाकरण हेतु प्रेरित करने के दिये निर्देश नोडल अधिकारी मिनिस्ती एस. ने तहसील सभागार लहरपुर, प्राथमिक विद्यालय कुल्ताजपुर एवं पूर्व माध्यमिक विद्यालय धोन्धी में निगरानी समितियों के सदस्यों से वार्ता की। नोडल अधिकारी ने निर्देश दिये लोगो को अधिक से अधिक टीकाकरण हेतु प्रेरित किया जाय। लक्षणयुक्त मरीजो को वितरित की जाने वाली दवाओं की पर्याप्त मात्रा में आशा एवं ए.एन. एम. को उपलब्ध कराए जाने के निर्देश भी दिये। इसके अतिरिक्त सभी निगरानी समितियों को पल्स ऑक्सीमिटर एवं थर्मल स्कैनर भी उपलब्ध कराए जाने हेतु निर्देशित किया। नोडल अधिकारी ने निर्देश दिये कि निगरानी समितियां सघन जांच करें। राजस्व, पुलिस एवं चिकित्सा विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये कि आशा, एएनएम एवं आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों के साथ संयुक्त बैठक कर बेहतर समन्वय स्थापित करें। इस दौरान मुख्य विकास अधिकारी अक्षत वर्मा, उपजिलाधिकारी पी.एल.मौर्य, एसीएमओ डॉ पी के सिंह सहित सम्बंधित अधिकारी उपस्थित रहे।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक