हरदोई में जमीनी विवाद को लेकर दो पक्षों में खूनी संघर्ष

 


खूनी संघर्ष में महिला समेत 12 लोग घायल

-सभी को जिला अस्पताल किया रेफर
-पाली थाने के उबरिया कला गांव की घटना
-दोनो पक्षों की तरफ से 32 लोगों पर एफआईआर दर्ज
हरदोई।पाली थाना क्षेत्र के उबरिया कला गांव में जमीनी विवाद को लेकर शनिवार को दो पक्षों में हिंसक झड़प हो गई। इस दौरान दोनों ओर से जमकर लाठी-डंडे चले और घरों में घुसकर तोड़फोड़ करने के अलावा फायरिंग भी हुई। दोनों ओर से दर्जन भर से अधिक लोग घायल हुए हैं । पुलिस ने दोनों पक्षों की तहरीर के आधार पर दोनों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर घटना की जांच शुरू कर दी हैं। 
     पाली थाना क्षेत्र के ग्राम उबरिया कला के राधेश्याम पुत्र चंद्रभाल का गांव के ही भगवान शरण पुत्र रूपनरायन से जमीनी विवाद चल रहा हैं। भगवान शरण का आरोप हैं कि राधेश्याम ने उनके खेत की जमीन पर अपना मकान बना लिया, जबकि राधेश्याम के मुताबिक उनका मकान ग्राम समाज की भूमि पर बना हुआ हैं। इसी विवादित जमीन पर राधेश्याम पक्ष के लोग नींव खोदने लगे, जिससे विवाद हो गया। राधेश्याम ने पुलिस को दी तहरीर में बताया कि शनिवार की सुबह भगवान शरण ने अपने पुत्रों बाबूराम, कृष्णप्रताप, रामप्रताप और मनोज के अलावा पौत्र ज्ञानू व भानू, भोलू, तथा भावना, शोभना, शिखा, भोली व कई अन्य ने एकमत होकर गुंडई के बल पर राधेश्याम के घर में घुसकर लाठी-डंडो से राधेश्याम व उसकी बेटी गुंजन औऱ पुत्र शिवम, ऋषभ, सत्यम व भतीजे वृजमोहन, रामकिशन और अनीता को बेरहमी से मारा पीटा।रामकिशन तो हमलावरों की पिटाई से बेहोश हो गया, वहीं अन्य लोग घायल हो गए। जबकि भगवान शरण ने दी तहरीर में बताया कि नींव खोदने की जानकारी होने पर उन्होंने डायल 112 पर पुलिस को जानकारी दी। इसी बात पर राधेश्याम पक्ष के दर्जनों लोगों ने लाठी-डंडो कांता व तमंचा से लैस होकर हमला बोल दिया। भगवान शरण ने बताया कि जब वह और उनके लोग बचने के लिए घर भागे तो हमलावरों ने घर में घुसकर लोगों को पीटा, और तोड़फोड़ की। वहीं तमंचे से फायरिंग की । इस हमले में भगवान शरण, मनोज कुमार, कृष्णकुमार, ज्ञानेंद्र, भानुप्रताप, शिखा, भावना व दीक्षा घायल हो गए। पुलिस ने दोनों पक्षों के घायलों को इलाज के लिए भेजा हैं, साथ ही मुकदमा दर्ज कर घटना की जांच भी शुरू कर दी हैं।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक