200 का सिलेंडर 2000 में बेचने का आरोप लगाकर निजी एंबुलेंस चालकों ने काटा हंगामा


 शहर में बिलग्राम चुंगी पर स्थित है ऑक्सीजन की गोदाम

हरदोई।शहर में बिलग्राम चुंगी के निकट स्थित ऑक्सीजन गोदाम के पास पहुंचकर दर्जनों प्राइवेट एंबुलेंस चालकों ने हंगामा काटा।आरोप लगाया कि जो ऑक्सीजन सिलेंडर की कालाबाजारी की जा रही है, जबकि उन्हें उचित रेट पर नहीं दिया जा रहा है।
      निजी एंबुलेंस चालक शकील व अन्य दर्जनों एंबुलेंस चालकों ने हंगामा काटते हुए बताया कि पिछले कुछ दिनों से ऑक्सीजन गैस सिलेंडर ब्लैक किए जा रहे हैं। जो ऑक्सीजन सिलेंडर 200 रुपए का दिया जा रहा था। वही अब 2000 में भी नहीं मिल रहा है ।जब भी गोदाम पर ऑक्सीजन लेने के लिए आते हैं  तो उन्हें ऑक्सीजन न होने की बात कहकर टरका दिया जा रहा है ।जिसके चलते वह गंभीर मरीजों को लखनऊ तक या कोविड-19 तक पहुंचाने में सफल नहीं हो पा रहे हैं । इसकी उन्होंने शासन व जिला प्रशासन से भी शिकायत की है, इस कालाबाजारी को रोका जाए ताकि आम जनजीवन पर इसका गलत असर न पड़े।
         सरकारी एंबुलेंस न मिलने या देरी होने पर मरीज के तीमारदार निजी एंबुलेंस कर लेते हैं। एक अस्पताल से दूसरे अस्पताल या लखनऊ ले जाने के दौरान मरीज को ऑक्सीजन की व्यवस्था भी निजी एंबुलेंस चालक करते हैं, जिससे मरीज को सुरक्षित पहुंचाया जा सके। कोरोना काल में हर मरीज को ऑक्सीजन की आवश्यकता पड़ रही है। वहीं ऑक्सीजन के लिए मारामारी मची हुई है। निजी एंबुलेंस कर्मी शहर के बिलग्राम चुंगी और सोल्जर बोर्ड के निकट से ऑक्सीजन का सिलिंडर लेते थे, चालकों का कहना है कि अब दुकानदारों ने ऑक्सीजन महंगी कर दी है और मनमाने रुपये न मिलने पर ऑक्सीजन न होने की बात कहकर टरका रहे हैं। मंगलवार को एंबुलेंस कर्मियों ने हंगामा करते हुए विरोध किया। इस दौरान शकील, अफरोज, मुख्तार, जावेद, कल्लू, एहतशाम, मुन्ना सहित 15 एंबुलेंस चालक मौजूद रहे।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक