ग्रामीणों व पुलिस टीम में बवाल


 सिपाही पर महिला से मारपीट का आरोप

-हरपालपुर थाना क्षेत्र के मिरगांवा का मामला
-घटना की सूचना पर थाने की पुलिस ने मौके पर स्थिति सुलझाई 
-कुछ दिन पहले हुए विवाद में पुलिस ने कई के विरुद्ध दर्ज किया था मुकदमा
-इसी मामले को लेकर एक बार फिर ग्रामीण पुलिस में विवाद
हरपालपुर(हरदोई)थाना क्षेत्र के मिरंगावा में गांव में हड़हा गाँव मे हत्या के मामले में कुछ लोगों को पुलिस पूछताछ के लिए पकड़ने गई पुलिस कार्यवाही से गुस्साए ग्रामीणों ने महिलाओं के साथ सड़क पर जाम लगा दिया।सूचना पाकर पहुंचे अपर पुलिस अधीक्षक ने पुलिस को कड़ी फटकार लगाते हुए मामला शांत कराया।
      हरपालपुर थाना क्षेत्र के हड़हा गांव निवासी कंपू 31 पुत्र स्वर्गीय सुखराम की बीते 1 फरवरी को मिरगावा गांव में लाठी-डंडों से मार पीट कर हत्या कर दी गई थी। जिसमें प्रधान पति समेत छः नामजद सहित 36 लोगों पर गैर इरादतन बलवा की धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया था। जिसमें 8 लोग गिरफ्तार कर पुलिस जेल भेज जा चुकी हैं। मंगलवार को हरपालपुर पुलिस के हेड कांस्टेबल धर्मेंद्र यादव राजेंद्र सिंह जितेंद्र कटारा मुलायम सिंह रतन पटेल   मिरगावॉ गांव पहुंचकर सुरेंद्र पुत्र सकटे श्री कृष्ण पुत्र मनसा को कोतवाली ले आये।जिसका विरोध करने पर देवकी 30 पत्नी रामलखन के साथ पुलिस ने हाथापाई की वहीं महिलाओं का आरोप है कि पुलिस ने देवकी के साथ मारपीट की और गाड़ी से नीचे उतार कर सड़क पर डाल दिया।जिससे महिला घायल हो गई।  ग्रामीणों ने महिला को सड़क पर लिटा कर पुलिस के खिलाफ प्रदर्शन करना शुरू कर दिया। मौके पर पहुंची पुलिस ने एक घंटे बाद प्रदर्शन कर रहे ग्रामीणों को बलपूर्वक भगा दिया। जिसमें पुलिस मिंरगावा गांव निवासी कलावति  फूलवती  गुरुशरण को पुलिस बलपूर्वक अपनी गाड़ी में उठा कर थाने ले आई। जिसमें हरपालपुर पुलिस ने गुरुशरण के साथ मारपीट भी की है।
      प्रदर्शन की सूचना मिलते ही अपर पुलिस अधीक्षक पश्चिमी कपिल देव सिंह क्षेत्राधिकारी हरपालपुर वियजेंद्र द्विवेदी घटनास्थल पर पहुंच गए। उन्होंने मामले कीबारीकी से छानबीन करते हुए दबिश देने गए पुलिसकर्मियों को कड़ी फटकार लगाई। वांछित अभियुक्तों के बारे प्रभारी निरीक्षक शैलेंद्र श्रीवास्तव से फोन पर जानकारी लेते हुए ग्रामीणों को सभी के नाम भी बताए। कहा कि अगर इनके अलावा पुलिस किसी और को थाने ले जा रही है। तो उच्च अधिकारियों से शिकायत करें। पूरे घटनाक्रम में हरपालपुर की पुलिस की कार्यशैली पर सवालिया निशान खड़े हो रहे हैं।देखना यह है पुलिस के द्वारा ग्रामीणों के साथ जो अभद्रता की गई उस पर किन पुलिसकर्मियों पर गाज गिरेगी।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव