पंचायत चुनाव को लेकर फर्जी मुकदमा दर्ज कराने वाले 5 लोग गिरफ्तार


 प्रधानी की रंजिश में महिला ने दर्ज कराया था फर्जी गैंगरेप का मुकदमा

-पंचायत चुनाव की पार्टी बंदी में दर्ज कराया था मुकदमा 
-मुकदमा दर्ज कराकर गिरोहबन्दी और ब्लैकमेलिंग का कर कर रहे थे प्रयास 
-फर्जी मुकदमे में गिरफ्तारी को लेकर कलेक्ट्रेट में भी धरने पर बैठे थे साजिश रचने वाले 
-पंचायत चुनाव को लेकर पूर्व प्रधान व उनके परिजनों पर दर्ज कराया था फर्जी मुकदमा
-पुलिस ने पूरे मामले का किया खुलासा 5 लोगों को भेजा जेल
-मामले में कुछ लोग हुए फरार पुलिस कर रही तलाश 
-एसपी अनुराग वत्स ने किया मामले का खुलासा
हरदोई।शहर कोतवाली इलाके के गौरियापुरवा मजरा मझरेहता में पंचायत चुनाव की पार्टी बंदी में फर्जी रेप का मुकदमा लिखाने वाले 5 लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेजा है। इस मामले में कुछ अन्य लोग फरार हैं पुलिस उनकी तलाश कर रही है।एसपी अनुराग वत्स ने बताया कि पंचायत चुनाव को लेकर पार्टी बंदी में गिरोह बंदी कर ब्लैक मेलिंग करने के उद्देश्य से इस प्रकार का मुकदमा दर्ज कराया गया था।
      मामले का खुलासा करते हुए पुलिस अधीक्षक अनुराग वत्स ने बताया कि कोतवाली शहर के ग्राम गौरियापुरवा मजरा मझरेहता गांव में ग्राम प्रधानी की पार्टी बंदी चल रही है। इसी के क्रम में गांव के ही चेतराम की कथित पुत्री रेनू के द्वारा स्वयं के साथ गैंगरेप की घटना का मुकदमा गांव के ही भन्नू सिंह पूर्व प्रधान व भन्नू सिंह के पारिवारिक भाई बन्नू सिंह के विरुद्ध गैंगरेप का एक मुकदमा दर्ज कराया था।पुलिस ने इस मुकदमे में फाइनल रिपोर्ट प्रेषित कर दी थी।लेकिन इस रिपोर्ट के विरोध में व भन्नू सिंह पूर्व प्रधान को गिरफ्तार कर जेल भेजे जाने की मांग को लेकर चेतराम उसकी कथित पुत्री रेनू द्वारा कलेक्ट्रेट परिसर में धरना प्रदर्शन भी किया गया था।
      एसपी के मुताबिक कलेक्ट्रेट में धरना प्रदर्शन करने के बाद में इस प्रकरण की अग्रिम विवेचना के निर्देश दिए गए थे।विवेचना फिर शुरू की गई तो स्थानीय पुलिस को प्रकरण के संबंध में पता चला कि चेतराम प्रकरण के आरोपी भन्नू सिंह का सगा फुफेरा भाई है और 2005 से दोनों में प्रधानी की रंजिश को लेकर असंतोष है। इसी के चलते पारिवारिक रंजिश के कारण भन्नू सिंह के विरुद्ध इन लोगों ने मुकदमा दर्ज कराया था।
      एसपी के मुताबिक अभियोग में गवाही एकत्रित करने व दबाव बनाकर वसूली करने के अतिरिक्त जान से मारने की भी योजना प्रकाश में आई।इसके बाद भन्नू सिंह की तहरीर पर कोतवाली शहर में चेतराम भैयालाल वेद प्रकाश शिव प्रकाश कपिल भीम प्रकाश रेनू के विरुद्ध एक मुकदमा दर्ज किया गया था। पुलिस ने इस पूरे मामले में चेतराम भैयालाल वेद प्रकाश शिव प्रकाश व रेनू को गिरफ्तार कर जेल भेजा है।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक