प्रधानमंत्री के भाई प्रह्लाद मोदी अपने कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी के विरोध में धरने पर बैठे, पूछा- क्या PMO का आदेश है?


मोदी का आरोप- स्वागत में आने वाले 100 कार्यकर्ताओं को लखनऊ पुलिस ने हिरासत में ले लिया

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के चौधरी चरण सिंह एयरपोर्ट के बाहर नरेंद्र मोदी के भाई प्रह्लाद मोदी धरने पर बैठ गए हैं। प्रह्लाद मोदी का कहना है कि हमारे स्वागत में आने वाले 100 कार्यकर्ताओं को लखनऊ पुलिस ने हिरासत में ले लिया है।

प्रहलाद मोदी ने कहा, 'मैं तब तक धरने पर बैठा रहूंगा जब तक सभी कार्यकर्ताओं को छोड़ नहीं दिया जाएगा। लखनऊ पुलिस बताए कि आखिर किसके आदेश पर उनको हिरासत में लिया गया। पीएमओ का आदेश है तो वह आदेश दिखाया जाए।' हालांकि एडीसीपी पूर्वी चिरंजीवी सिन्हा का कहना है कि कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है। मैं धरना देने की सूचना पर एयरपोर्ट आया था। वहां से सभी लोग चले गए हैं।

प्रह्लाद मोदी का कहना है कि मुझे 4 फरवरी को सुल्तानपुर, 5 को जौनपुर और 6 फरवरी को प्रतापगढ़ जाना था। इसलिए आज लखनऊ एयरपोर्ट आया हूं। यहां आकर मुझे जानकारी हुई कि हमारे जो कार्यकर्ता थे उनको पुलिस ने पकड़ लिया है। इसलिए आज मैं धरने पर बैठ गया हूं। एयरपोर्ट के बाहर तब तक धरने पर बैठा रहूंगा जब तक हमारे सभी कार्यकर्ताओं को छोड़ दिया जाएगा।'

पुलिस अफसर कहते हैं कि पीएमओ का आदेश है

प्रहलाद मोदी ने कहा कि पुलिस अफसर कहते हैं कि पीएमओ से आदेश है। मैं कहता हूं आदेश की कॉपी मुझे दो ताकि मैं सच की राह पर चल सकूं, लेकिन गुंडागर्दी करने से न तो यहां के शासन को लाभ होगा और न ही पीएमओ को। उन्‍होंने कहा कि मैं यहां से उठूंगा नहीं। मैंने अन्‍न जल त्‍याग दिया है। मेरे कई साथी थे, तकरीबन 100 से ऊपर थे। उनकी गाड़ियां भी जब्‍त कर ली गई हैं। ऐसा मुझे पता चला है। मेरा यहां से प्रयागराज जाने और रात को वापस आने का प्रोग्राम था, लेकिन पुलिस की दिक्‍कत के कारण उसमें बाधा आ गई है। जब तक पुलिस मुझे आदेश की कॉपी नहीं देती मैं नहीं हटूंगा। उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट जाकर भी दिखा दूंगा कि न्‍याय अभी बाकि है।

पुलिस ने कार्यक्रम के आयोजकों को हिरासत में लिया था

दिल्ली से आने वाली 2 बजे की उड़ान से प्रहलाद मोदी राजधानी पहुंचे थे। उनको सुलतानपुर और जौनपुर में योग सोशल सोसाइटी की ओर से सम्मानित किया जाना था। लेकिन पुलिस ने एक दिन पहले ही सोसाइटी औऱ उसके कार्यक्रम को फर्जी बताते हुए आयोजक को हिरासत में ले लिया था। जिससे प्रहलाद मोदी के दोनों सम्मान कार्यक्रम भी निरस्त हो गए हैं। ऐसे में प्रहलाद मोदी ने जिद पकड़ ली है कि जिन समर्थकों और आयोजकों को गिरफ्तार किया गया है, उनको तुरंत बिना शर्त रिहा कर दिया जाए।

प्रहलाद मोदी ने कहा कि मुझे रिसीव करने के लिए जो लोग आ रहे थे, उन सबको पुलिस ने पकड़ लिया है। थाने में बैठा दिया है। उन पर मुकदमा दर्ज करने की तैयारी चल रही है। मुझे लगा कि मेरे बच्‍चे जेल में रहें और मैं बाहर रहूं, ये ठीक नहीं है। या तो उनको मुक्‍त करो वरना मैं एयरपोर्ट पर अनशन पर बैठ गया हूं। खाना पीना छोड़ दिया है।

पहले भी धरने पर बैठ चुके हैं मोदी के भाई
राजस्थान की यात्रा पहुंचे पीएम नरेंद्र मोदी के भाई प्रह्लाद मोदी जयपुर के एक पुलिस स्टेशन के बाहर धरने पर बैठ गए थे। 14 मई 2019 को अपने सुरक्षा कर्मियों के लिए अलग वाहन की मांग के साथ धरने पर बैठे और प्रह्लाद मोदी ने एक घंटे तक थाने के बाहर अपनी नाराजगी जाहिर की थी। बाद में पुलिस अधिकारियों की मान-मनौव्वल के बाद उन्होंने अपना धरना समाप्त कराया था।



टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव