अब अकेला व्यक्ति भी खोल सकेगा अपनी कंपनी, जानिए OPC कॉन्सेप्ट के बारे में...

 


नयी दिल्ली।
वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने लोकसभा में डिजिटल इंडिया का डिजिटिल बजट पेश करते हुए ओपीसी यानी वन पर्सन कंपनी की बात कही। यह पूरे बजट भाषण की सबसे प्रभावित कर देने वाली बात रही। क्योंकि अभी तक किसी बिजनेस को शुरू करने के लिए बहुत तरह के झमेलों का सामना करना पड़ता था। कंपनी के लिए डायरेक्टर इत्यादि की आवश्यकता होती थी लेकिन निर्मला सीतारमण द्वारा बताए गए वन पर्सन कंपनी कॉन्सेप्ट की मदद से स्टार्टअप को नई ऊचाईयां मिलेंगी। 

बताया जा रहा है कि वन पर्सन कंपनी के माध्यम से अब अकेला व्यक्ति ही कंपनी की शुरुआत कर सकता है और वह अपनी सुविधा के अनुसार कंपनी में पूंजी लगा सकता है। इतना ही नहीं जरूरत के हिसाब से कंपनी को बदला भी जा सकता है। जिसका मतलब है कि ओपीसी के माध्यम से खड़ी की गई कंपनी को प्राइवेट लिमिटेड कंपनी या फिर पब्लिक लिमिटेड कंपनी में तब्दील किया जा सकता है।

निर्मला सीतारमण के इस ऐलान के बाद से नया व्यापार खोलने में काफी आसानी होगी और स्टार्टअप को बूस्ट मिलेगा। वैसे भी मौजूदा हालात को देखते हुए अधिक-से-अधिक रोजगार की युवाओं को जरूरत है। ऐसे में अगर वह आसानी से स्टार्टअप की शुरुआत कर सकेंगे तो वह भविष्य में नौकरी का सृजन भी कर सकेंगे। 

वित्त मंत्री ने क्या कुछ कहा था ?

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने संसद में बजट पेश करते हुए कहा कि ऐसी कंपनियों के गठन को प्रोत्साहित किया जाएगा। इन्हें भुगता पूंजी और टर्नओवर पर बिना पाबंदी के वृद्धि करने की छूट दी जाएगी। इसके अलावा किसी भी समय किसी भी श्रेणी की कम्पनी के रूप में बदलाव करने, एक भारतीय नागरिक के लिए ओपीसी बनाने में निवास की समय सीमा को 182 दिन से घटाकर 120 दिन करने तथा अनिवासी भारतीयों को देश में ओपीसी बनाने जैसे प्रावधान भी होंगे। वित्त मंत्री ने कहा कि यह स्टार्टअप के लिए बड़ा प्रोत्साहन होगा।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव