ईमानदारी से अभियान की सफलता शतिप्रतिशत सुनिश्चित करेंःडीएम

 


विशेष संचारी रोग नियत्रंण तथा दस्तक अभियान के अर्न्तगत क्षय रोगी, बुखार रोगी, कुपोषित बच्चों, जन्म-मृत्यु पंजीयन तथा दिमागी बुखार से दिव्यांग हुए बच्चों का चिन्हींकरण किया जायेगा:अविनाश

हरदोई। 1 मार्च से 31 मार्च 2021 तक चलने वाले विशेष संचारी रोग नियत्रंण तथा दस्तक अभियान की कलेक्ट्रेट सभागार में बैठक हुई।इसकी अध्यक्षता डीएम अविनाश कुमार ने की।
      अन्तर्विभागीय समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुए जिलाधिकारी अविनाश कुमार ने अभियान से जुड़े जिलास्तरीय अधिकारियो को निर्देश दिये कि शासन के निर्देशानुसार विशेष संचारी रोग नियत्रंण, दस्तक अभियान तथा संचारी रोगों एवं दिमागी बुखार पर प्रभावी कार्यवाही करते हुए अपने दायित्वों का ईमानदारी से निर्वहन करने के साथ अभियान की सफलता शतिप्रतिशत सुनिश्चित करें।जिलाधिकारी ने कहा इस अभियान के अन्तर्गत दिमागी बुखार से संबंधित शिक्षा एवं व्यवहार परिर्वतन संदेश, गांव के हर घर एवं परिवार में पहुचाया जायेगा और इसके लिए 01 मार्च से 08 मार्च तक प्रशिक्षण प्राप्त करने के उपरान्त 10 मार्च से 24 मार्च 2021 तक दस्तक अभियान के तहत आशा द्वारा घर -घर जाकर दस्तक देकर संचारी रोगों से बचाव हेतु जागरूक किया जायेगा और जिन घरों में 15 वर्ष से कम आयु के बच्चे होगें या टी0वी0 लक्षणयुक्त संभावित रोगी पाये जायेगें वहां पर स्टीकर चश्पा किया जायेगा साथ ही क्षय रोगियों, बुखार रोगी, कुपोषित बच्चों, जन्म-मृत्यु पंजीयन तथा दिमागी बुखार से दिव्यांग हुए बच्चों का चिन्हींकरण किया जायेगा तथा बुखार रोग से पीड़ित लोगों को पास के सीएचसी/ पीएचसी में भर्ती करने हेतु प्रेरित किया जायेगा।
       समीक्षा बैठक में उन्होने कहा कि अभियान के तहत स्वास्थ्य विभाग द्वारा 01 से 31 मार्च तक प्रतिदिन आशाओं के माध्यम से वीएचएनडी सत्रों पर संचारी रोग संबंधी बैठक, टीकाकरण, दिमागी बुखार केस की निगरानी, उपचार एवं रोगियों हेतु निःशुल्क 108/102 की व्यवस्था की जायेगी और मलेरिया विभाग द्वारा रोगवाहक धनत्व का आंकलन करने के साथ लार्वारोधी गतिविधियां चलाई जायेगी और आवश्यकतानुसार फागिंग करायी जायेगी। जिलाधिकारी ने कहा कि नगरीय निकायों द्वारा समस्त वार्डो में प्रतिदिन नाली, नालों की सफाई, कचरा निस्तारण फागिंग आदि कराने के साथ प्रत्येक शनिवार एवं रविवार को सभी वार्डो में विशेष सफाई अभियान चलाकर पूर्व की भांति सफाई व्यवस्था सुनिश्चित की जायेगी और वार्डवासियों को संचारी रोग के बचाव के लिए घर व आस-पास सफाई रखने के प्रति जागरूक किया जायेगा। जिला पंचायत विभाग द्वारा अभियान के दौरान सोमवार से रविवार तक ग्रामीण क्षेत्रों में मनरेगा फंड से फागिंग/छिड़काव एवं गांवों में विशेष सफाई अभियान के दौरान गलियों, नालियों आदि की सफाई, झाड़ियों की कटाई, संचारी रोग से बचाव हेतु ग्रामवासियों के साथ बैठक, प्रभात फेरी, जागरूकता रैली आदि का आयोजन किया जायेगा तथा पशु पालन विभाग द्वारा सूकर पालकों का चिन्हींकरण कर आबादी से दूर स्थापित करने हेतु प्रेरित करना और पोल्ट्री व्यवसाय के लोगों को संचारी रोग से बचाव तथा सफाई आदि के बारे में किया जायेगा।
       बैठक में जिलाधिकारी ने जिला विद्यालय निरीक्षक एवं जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को निर्देश दिये कि विद्यालयों में बच्चों को वेक्टर जनित रोगों से बचाव की प्रतिज्ञा, स्वच्छता जागरूकता रैली, स्कूल मेला एवं मीना मंच आदि के आयोजन अभियान के दौरान निर्धारित तिथियों में करायें। उन्होने कहा कि दिव्यांगजन व समाज कल्याण विभाग द्वारा अभियान के तहत विकलांग बच्चों को आवश्यक सहायक उपकरण वितरित किये जायेगें और कृषि विभाग द्वारा चूहों के नियंत्रण हेतु गोष्ठियां आयोजित की जायेगी तथा सिंचाई विभाग द्वारा नहरों व तालाबों के किनारों पर उगी वनस्पतियों को हटया जायेगा और ग्रामीण क्षेत्रों के निकट नहरों में जल क्षरण की मरम्मत कराई जायेगी। उन्होने कहा कि महिला एवं बाल विकास की आंगनबाड़ी अपने-अपने क्षेत्र में कुपोषित तथा अति कुपोषित बच्चों का चिन्हींकरण करने के साथ पोषाहार उपलब्ध कराया जायेगा और आवश्यकता पड़ने पर पीड़ित बच्चें को पोषण पुर्नवास केन्द्र पर भर्ती कराया जायेगा।
      बैठक में जिलाधिकारी ने अभियान में जुड़े समस्त विभाग के अधिकारी विशेष संचारी रोग नियंत्रण एवं दस्तक अभियान के तहत जागरूकता आदि की गयी गतिविधियों की आख्या प्रत्येक शनिवार को प्रातः 11 बजे मुख्य चिकित्साधिकारी की समीक्षा बैठक में उपलब्ध करायें और मुख्य चिकित्साधिकारी द्वारा समस्त विभागों प्रतिदिन की प्रगति आख्या प्राप्त कर शाम तक उपलब्ध करायी जायेगी। बैठक में मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा0 सूर्यमणि त्रिपाठी, अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 स्वामी दयाल, सीएमएस पुरूष/महिला, डा0 अमरजीत अजमानी, डा0 प्रशान्त कुमार, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी हेमन्त राव, जिला विद्यालय निरीक्षक वीके दुबे, जिला कार्यक्रम अधिकारी बुद्वि मिश्रा, अधिशासी अभियंता शारदा नहर अखिलेश गौतम, ईओ रवि शंकर मिश्रा सहित अन्य संबंधित विभाग के अधिकारी चिकित्सक, संजू कश्यप, सीडीपीओं आदि उपस्थित रहे।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक