भारत की वैक्सीन मैत्री से घबराकर चीन चलने लगा कूटनीतिक चाल

 


विश्व स्वास्थ्य संगठन की पहल पर विकासशील और गरीब देशों को निश्चचित संख्या में मुफ्त टीके उपलब्ध कराए जा रहे हैं। कोवैक्स प्लान के तहत सभी देशों को समय पर और उचित मात्रा में वैक्सीन उपलब्ध कराएं जाने का लक्ष्य तय किया गया है। भारत की ओर से भी पड़ोसी देशों को वैक्सीन मुहैया कराई है। जिसकी प्रशंसा डब्ल्यूएचओ और अमेरिका सहित कई देशों के द्वारा की गई। अब भारत के नक्शेकदम पर चलते हुए चीन ने कोवैक्स में एक करोड़ वैक्सीन की डोज देने की घोषणा की। इसके साथ ही कोरोना वैक्सीन पर कूटनीतिक चालें चल रहा है। 

नेपाल के विदेश मंत्रालय की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि चीन के विदेश मंत्री वांग यी ने प्रदीप ग्यावली से फोन पर बात की और आश्वासन दिया कि टीका सहयोग में चीन नेपाल को प्राथमिकता देगा। वांग ने घोषणा की है कि चीन अनुदान के आधार पर नेपाल को कोविड-19 टीकों की 5 लाख डोज देगा। 

भारत की तरफ से मिली 10 लाख कोरोना वैक्सीन 

भारत की तरफ से नेपाल को कोरोना वैक्सीन की 10 लाख डोज दी गई है। भारत में नेपाल के राजदूत नीलांबर आचार्य ने कहा कि भारत सरकार ने हमें कोरोना वैक्सीन की 1 मिलियन डोज दिया है, जिसके लिए हम भारत सरकार के आभारी है। हमें विश्वास है कि हमें और वैक्सीन मिलेंगे। हम भारतीय सरकार और भारतीय लोगों को धन्यवाद करते हैं, वे एक अच्छे पड़ोसी और मित्र हैं।  

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव