सपा के प्रतिनिधि मंडल ने पीड़ितों से की मुलाकात

 


पीड़ितों से रूबरू होकर प्रशासन पर लगाये आरोप

-सपा का आरोप भू माफिया से मिला है प्रशासन
-प्रशासन को मामले में पहले जिम्मेदार अधिकारियों पर करनी चाहिए कार्यवाई
-एक परिवार द्वारा लखनऊ में सामूहिक आत्मदाह करने के प्रयास का मामला
हरदोई।शहर कोतवाली इलाके के धन्नू पुरवा के रहने वाले एक परिवार के द्वारा सामूहिक रूप से लखनऊ के लोक भवन के बाहर आत्मदाह के प्रयास के मामले के बाद अब समाजवादी पार्टी का प्रतिनिधिमंडल हरदोई पहुंचा और यहां पर उन्होंने पीड़ितों से मुलाकात की।इसके बाद उन्होंने पत्रकारों से वार्ता करते हुए कहा कि जिला प्रशासन की मिलीभगत से भू-माफियाओं ने इस प्रकार के कृत्य किए हैं अब जिला प्रशासन को सफाई देनी चाहिए और इस पूरे मामले में जो भी प्रशासनिक अधिकारी कर्मचारी दोषी पाए जा रहे हैं उनके विरुद्ध भी पहले प्रशासन को कार्यवाही करनी चाहिए।
     दरअसल हरदोई के शहर कोतवाली इलाके के धन्नू पुरवा निवासी एक परिवार ने लोक भवन के सामने आत्मदाह का प्रयास किया था। उसका यह आरोप था कि उसके मकान पर दबंग लोगों ने कब्जा कर लिया है आसपास खाई खोद दी है और प्रशासन उनकी मदद नहीं करना चाह रहा है जिसकी वजह से उन लोगों ने इस प्रकार के कदम को उठाया था। सामूहिक आत्मदाह के प्रयास के बाद हड़कंप मच गया था और इस पूरे मामले में अब प्रशासन ने एक प्रेस विज्ञप्ति जारी की है।लेकिन इससे पहले समाजवादी पार्टी का प्रतिनिधिमंडल पीड़ित परिवारों के पास पहुंचा।प्रतिनिधिमंडल में डॉ मनोज पांडे विधायक उँचाहार रायबरेली,डॉ राजपाल कश्यप एमएलसी प्रदेश अध्यक्ष पिछड़ा वर्ग,एमएलसी उदयवीर सिंह,एमएलसी शशांक यादव,पूर्व सांसद ऊषा वर्मा जिलाध्यक्ष जितेंद्र वर्मा जीतू आदि रहे।
        सपा एमएलसी उदयवीर सिंह ने कहा उन्होंने यहां पर देखा है 5 परिवार ऐसे हैं जिनका मकान गिरा कर उनका सारा सामान मलबे में दबा दिया गया।उनका आरोप है कि बिल्डर ने इस प्रकार का जो कृत्य किया है उस पूरे मामले में प्रशासन को सफाई देनी चाहिए क्योंकि जिला प्रशासन की मिलीभगत के बिना इतनी बड़ी कार्यवाही संभव नहीं है और ऐसे में अब जिला प्रशासन को दोषियों के विरुद्ध कार्यवाही भी करनी चाहिए।डॉ मनोज पांडे ने बताया कि जिस प्रकार का यह कृत्य किया गया है उससे लगता है कि उत्तर प्रदेश की कानून व्यवस्था का राज्य स्थापित ही नहीं है और धन्नू पुरवा के पीड़ित परिवारों के साथ जो घटना घटी है उसका यह ज्वलंत उदाहरण है। उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी पीड़ितों के साथ है और पूरे प्रदेश में कहीं भी किसी साथ अन्याय हो रहा है तो उसको न्याय दिलाने के लिए लगातार 2017 से अब तक तमाम लड़ाई लड़ी गयी है।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव