आठ अपात्रों को आवास देने से नाराज ग्रामीणों ने मजिस्ट्रेट को दिया शिकायती पत्र


 साण्डा (सीतापुर)।
ब्लॉक सकरन के ग्राम पंचायत तारपारा में 8 अपात्रों को पीएम आवास की सुविधा दिए जाने से नाराज ग्रामीणों ने मजिस्ट्रेट को शिकायती पत्र दिया है। तकरीबन 55 किमी दूर गांव से जिला मुख्यालय है। जहां पर दो दर्जन ग्रामीणों ने प्रकरण में जांच कर कार्रवाई किए जाने के साथ ही पात्रों को आवास दिए जाने की गुजारिश डीएम से की है। प्रकरण विकासखंड सकरन के ग्राम पंचायत तार पारा का यहां के निवासी मिथिलेश राधेश्याम नन्हा सूरजपाल रामादेवी फूलमती, सुरजाना आदि ग्रामीणों ने कलेक्टर ऑफिस पहुंचकर डीएम को संबोधित शिकायती पत्र अतिरिक्त मजिस्ट्रेट को दिया। इसके पर आरोप लगाया कि पक्के मकान वालों को पीएम आवास की सुविधा दी गई है। एक ही परिवार के कई लोगों को लाभ दे चुके हैं। आरोप है कि सबिरा अख्तियार अली, हमिदादीन, जफर नजमा समेत 8 अपात्र लोगों को पीएम आवास का लाभ दिया गया है। जिस संबंध में तारपारा गांव गांव के ग्रामीणों ने डीएम के ऑफिस पहुंचकर उनके आवास पर उनको एक शिकायती पत्र देकर के जांच कराए जाने की मांग की है। तारपारा गांव के प्रधान इस्लामुद्दीन व उनके पुत्र बबलू आदि ने डीएम साहब को शिकायती पत्र देने वाले ग्रामीणों को गंदी गंदी गालियां देते हुए धमकियां भी दी। साथ में कहा जो कुछ करना है करवा लो अधिकारियों को अपनी जेब में रखते हैं। जिससे नाराज ग्रामीणों ने बताया कि यदि प्रधान के खिलाफ  कोई कार्यवाही नहीं होती है तो सोमवार के दिन ब्लॉक स्तर का घेराव कर दिया जाएगा और वहीं पर बैठ कर धरना भी दिया जाएगा। जब तक समस्या का समाधान नहीं होता है तब तक हम लोग ब्लॉक स्तर पर धरना देते रहेंगे। तारपारा गांव के ग्रामीण पुतानी, मौजीलाल, उत्तम सिंह, कंधई, पुत्तीलाल, नन्हा, मिथिलेश कुमार आदि लोगों ने डीएम को शिकायती पत्र देकर जांच कराए जाने की मांग की है। 



टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक