दुनिया के सबसे बड़े क्रिकेट स्टेडियम का राष्ट्रपति ने किया उद्घाटन, अब नाम होगा नरेंद्र मोदी स्टेडियम

 


अहमदाबाद।
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने बुधवार को दुनिया के सबसे बड़े और अत्याधुनिक क्रिकेट स्टेडियम का उद्घाटन किया जिसका नाम अब सरदार पटेल स्टेडियम की बजाय देश के प्रधानमंत्री के नाम पर नरेंद्र मोदी स्टेडियम होगा जिन्होंने गुजरात के मुख्यमंत्री रहते इसकी संकल्पना की थी। इस स्टेडियम में एक लाख 32 हजार दर्शक बैठ सकते हैं। यहां भारत और इंग्लैंड के बीच बुधवार से दिन रात का तीसरा और चार मार्च से चौथा टेस्ट खेला जाना है। राष्ट्रपति ने उद्घाटन के बाद अपने संबोधन में कहा  इस स्टेडियम की परिकल्पना प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की थी जब वह गुजरात के मुख्यमंत्री थे। वह उस समय गुजरात क्रिकेट संघ के अध्यक्ष थे।उन्होंने कहा यह स्टेडियम पर्यावरण के अनुकूल विकास का एक उदाहरण है। स्टेडियम के नामकरण की बात इसके उद्घाटन तक गुप्त रखी गई थी। कोविंद ने कहा यह भारत की शक्ति और आकांक्षाओं का प्रतिनिधित्व करता है। भारत को क्रिकेट का गढ कहा जाता है और इसलिये दुनिया का सबसे बडा स्टेडियम हमारे देश में होना ही चाहिये। इससे भारत को नयी पहचान मिलेगी।

राष्ट्रपति ने गृहमंत्री अमित शाह और खेलमंत्री किरेन रीजीजू समेत कई विशिष्ट अतिथियों की मौजूदगी में स्टेडियम का उद्घाटन किया। शाह ने उद्घाटन के बाद कहा ,‘‘ हमने इसका नामकरण देश के प्रधानमंत्री के नाम पर करने का फैसला किया है। यह मोदीजी का ड्रीम प्रोजेक्ट था।’’ राष्ट्रपति ने मौके पर स्टेडियम में खेल परिसर के निर्माण कार्य की शुरूआत के समारोह में भी भाग लिया। इसका नाम सरदार पटेल खेल परिसर होगा और इसमें फुटबॉल, हॉकी, बास्केटबॉल, कबड्डी, मुक्केबाजी जैसे खेलों की सुविधायें होंगी। करीब 215 एकड़ की इस महत्वाकांक्षी परियोजना के तहत 20 स्टेडियम बनाये जायेंगे जिसमें खिलाड़ियों और कोचों के लिये रिहायशी सुविधा भी होगी। कोविंद ने कहा ,‘‘ मुझे विश्वास है कि इस स्टेडियम से विश्व स्तरीय खेल बुनियादी ढांचे को लेकर अहमदाबाद की दुनिया में नयी पहचान बनेगी।’’ शाह ने कहा ,‘‘ ये तीन परिसर 233 एकड़ में फैले होंगे जो राष्ट्रमंडल खेल, एशियाई खेल और ओलंपिक तक की मेजबानी के लिये काफी है। ये छह महीने में तैयार हो जायेंगे।’’ करीब 63 एकड़ से अधिक परिसर में फैले नरेंद्र मोदी स्टेडियम की दर्शक क्षमता एक लाख 32 हजार है और इस पर 800 करोड़ रूपये खर्च किये गए हैं। इससे पहले मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड सबसे बड़ा स्टेडियम था जिसकी दर्शक क्षमता 90000 है। उन्होंने कहा ,‘‘ मुझे विश्वास है कि इससे खिलाड़ियों को बेहतर प्रदर्शन में मदद मिलेगी। हमारे कई खिलाड़ी कठिनाइयों का सामना करके छोटे शहरों से आते हैं। जीसीए ने जिन खिलाड़ियों को प्रोत्साहन दिया है , उनमें आज के लोकप्रिय नाम जसप्रीत बुमराह और अक्षर पटेल शामिल हैं।’’

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक