प्रेमी के साथ मिलकर पति की कर दी थी हत्या,गिरफ्तार


 बिलग्राम में हुई युवक की हत्या का हुआ खुलासा

-पत्नी ने ही अपने प्रेमी के साथ मिलकर पति को उतारा था मौत के घाट
-हत्या के बाद अपने विपक्षियों को फंसाने के लिए किया था नामजद
-पुलिस पड़ताल में हो गया खुलासा
-मृतक की पत्नी व उसके प्रेमी समेत 4 गिरफ्तार
-31 जनवरी को हुई थी युवक की हत्या
हरदोई।बिलग्राम में 31 जनवरी को हुई युवक की हत्या का पुलिस ने खुलासा कर दिया है।पुलिस ने मृतक की पत्नी उसके प्रेमी सहित चार लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेजा है।महिला ने प्रेमी के साथ मिलकर पति को मौत के घाट उतार दिया था और उसके बाद दूसरों को फंसाने के लिए पांच लोगों को नामजद करा दिया था।लेकिन पुलिस पड़ताल में मामला खुल गया जिसके बाद अब पत्नी सलाखों के पीछे भेज दी गयी है।
      मामले का खुलासा करते हुए एएसपी अनिल कुमार सिंह ने बताया कि 31 जनवरी को बिलग्राम कोतवाली क्षेत्र के रामपुर मझियारा में रामौतार की सर पर चोट करके हत्या कर दी गयी थी।उसका खून से लथपथ शव घर के अंदर मिला था।सूचना पर अधिकारियों ने घटनास्थल का निरीक्षण किया था।इस संबंध में मृतक की पत्नी चमेली ने 1 जनवरी को मन्नु पुत्र कुबेर धीरज पुत्र मन्नू यादव सोनेलाल पुत्र कुबेर रामपुर मझियारा ऋषिपाल यादव व चक्रपाल निवासी गण शाहाबुद्धीन मल्लावां के विरुद्ध मुकदमा पंजीकृत कराया था। 
      मामले के खुलासे के लिए एसपी अनुराग वत्स के निर्देशन व अपर पुलिस अधीक्षक पूर्वी व क्षेत्राधिकारी बिलग्राम के निकट पर्यवेक्षण में प्रभारी निरीक्षक बिलग्राम व उनकी टीम को लगाया गया था।।एएसपी ने बताया कि विवेचना के क्रम में वादनी मुकदमा के आचरण व व्यवहार में संदेह होने पर उसको हिरासत में लिया गया और उससे गहनता से पूछताछ की गई तो सारा भेद खुल गया।एएसपी ने बताया कि इसके अलावा भी पुलिस ने अन्य साक्ष्यो को एकत्र किया जिसके बाद घटना का खुलासा और पता चला कि मृतक की पत्नी व मुकदमे की वादिनी ने ही अपने प्रेमी व साथियों के साथ मिलकर हत्या को अंजाम दिया था।
       एएसपी ने बताया कि मृतक की पत्नी चमेली देवी ने ऋषिपाल यादव से कोर्ट मैरिज कर ली और ऋषिपाल को अपनी पुश्तैनी जमीन बेचने के लिए दबाव डालने लगी। उसने कुछ जमीन बेचकर पैसा चमेली देवी को दे दिया और जमीन बेचने के दबाव पर ऋषिपाल ने अपनी जमीन बेचने से मना कर दिया तो चमेली देवी वापस अपने मृतक पति रामौतार के पास आकर रहने लगी।वह वापस तो आ गयी लेकिन उसका कभी -कभी ऋषिपाल के पास भी आना जाना लगा रहा। मृतक रामौतार चमेली देवी को ऋषिपाल के पास नहीं भेजना चाहता था इसी बात को लेकर हत्या से एक सप्ताह पहले ऋषिपाल व मृतक के बीच झगडा हुआ था।
      एएसपी ने बताया कि 31 जनवरी को चमेली देवी ने अपने पति रामौतार की हत्या अपने साथी ऋषिपाल यादव निवासी शहाबुद्दीन पुर थाना मल्लावा विजय पाल किसान पुत्र रामकिशुन निवासी रामपुर मझियारा थाना बिलग्राम,रामसेवक भुज्जी पुत्र रामनरायन भुज्जी निवासी रामपुर मझियारा थाना बिलग्राम के साथ मिलकर सर पर मुगदल मार कर दी थी।पुलिस ने सभी को जेल भेज दिया है।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव