ब्राह्मण वटुकों के 13 मई को होंगे सामूहिक जनेऊ


 151 वटुकों के जनेऊ का लक्ष्य, मां बहनें निभाएंगी लोक रीतियां

हरदोई।सामूहिक जनेऊ संस्कार को लेकर आज संयुक्त ब्राह्मण महासभा की बैठक संस्थाध्यक्ष/पूर्व विधायक लालन शर्मा के आवास पर हुई। जिसमें परशुराम जयंती अक्षय तृतीया के उपलक्ष्य में 13 मई 2021 को 151 वटुकों के सामूहिक यज्ञोपवित संस्कार कराने का निर्णय लिया गया। जनेऊ कराने वाले वटुकों के आवेदन की पंजीकरण की अंतिम तिथि 30 अप्रैल 2021 को रखी गयी। पंजीकरण का शुरुआत बसंत पंचमी 16 फरवरी से होगी।
      संयुक्त ब्राह्मण महासभा के संयोजक कमलेश पाठक ने समारोह पर प्रकाश डाला और ब्रह्म समाज से अपने बच्चों के समय से जनेऊ कराने की अपील की। कहा सामूहिक यज्ञोपवित संस्कार समारोह में जनेऊ कराने वाले वटुकों को संस्था की ओर से कुर्ता-धोती, अंगौछा सहित नि: शुल्क पांच-पांच वस्त्र प्रदान किए जाएंगे। कहा लग्न मंडप में काशी-नैमिष और हरिद्वार से लेकर अपने जनपद के आचार्य विद्वान संस्कार की दीक्षा देने के साथ जनेऊ पहनाएंगे। कहा समारोह में समाज के मेधावियों और प्रतिभाओं के साथ विभिन्न क्षेत्रों में कुछ विशेष उपलब्धि हासिल करने वाली विभूतियों को भी पुरस्कृत वह सम्मानित किया जाएगा।
    बैठक की अध्यक्षता करते हुए महासभा के अध्यक्ष/पूर्व विधायक लालन शर्मा ने कहा कि संस्कारों में धन का अपव्यय न करके मां-बाप उनकी शिक्षा और व्यक्तित्व विकास पर पैसे खर्च करें।पूर्व विधायक श्री शर्मा ने कहा कि मां-बहनें अपने-अपने वटुकों के जनेऊ कराने के मौके पर संस्कार मंडप में राई-नमक आदि नेग एवं लोकरीतियां निभाएंगी।उन्होंने कहा कि फिजूलखर्ची को रोकने के लिए समाज को आगे आना चाहिए और अपने आठ वर्ष से लेकर बढ़ती उम्र के बीच जनेऊ सामूहिक संस्कार समारोह में कराना चाहिए। संचालन महेश मिश्र ने किया। बैठक में अवधविहारी मिश्र, हनुमान प्रसाद मिश्र, गिरीश बाजपेई, अविनाश मिश्र, अमित दीक्षित, ओपी तिवारी, रामपाल पांडेय, उमाकांत शुक्ला, विकास पाठक आदि उपस्थित रहे।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव