चोरो ने बंद मकान में पहले की शराब पार्टी, फिर 10 लाख का सामान लेकर फरार


आमतौर पर बंद मकान में घुसकर चोरी की घटनाएं अक्सर सुनने को मिलती हैं। क्या आपने कभी सुना है कि चोरी करने से पहले चोरों ने पार्टी की वह भी शराब की। इसके बाद घर में रखे सामान पर हाथ साफ करके फरार हो गए। यूपी के कुशीनगर जिले के पंचायत दुदही स्थित एक बंद मकान ऐसी ही वारदात सामने आई है। यहां चोर आराम से बंद घर में दाखिल हो गए। इसके बाद यहां बैठकर शराब पार्टी की और फिर पूरे घर को खंगाल कर फरार हो गए। बताते हैं कि चोर यहां से नकदी समेत करीब 10 लाख रुपये से अधिक का सामान समेट ले गए हैं। वारदात के दौरान मकान मालिक 15 दिन पहले बुजुर्ग दंपति बड़े बेटे के पास इलाज कराने मुंबई गये हैं। छोटा बेटा छुट्टी होने पर शनिवार की देर शाम घर पहुंचा तो मकान में बिखरा हुआ सामान देख सन्न रह गया। पीड़ित ने पुलिस को तहरीर सौंप कार्रवाई की मांग की है।

विशुनपुरा थाना क्षेत्र के दुदही में छोटेलाल जायसवाल नया घर बना कर पत्नी के साथ रहते हैं। उनके लड़के अन्य शहरों में रहते हैं। 15 दिन पूर्व छोटेलाल बड़े बेटे पास मुंबई इलाज के लिए चले गए। घर में ताला बंद था। उनका छोटा बेटा जो गोरखपुर में बैंक में नौकरी करता है वह सप्ताह में एक बार घर आकर देखभाल करता था। शनिवार की देर शाम जब वह गोरखपुर से वापस लौटा और घर खोल कर देखा तो पूरा सामान बिखरा हुआ था। कमरों में रखी आलमारी के दराज खुले हुये थे, घर में रखा टीवी, कूलर, इनवर्टर, बैट्री, सिलेंडर सहित कपड़ा, गहना आदि सामान गायब था। पूरा घर देखने के बाद पता चला कि चोर सीढ़ी पर लगे एलवेस्ट्स को तोड़कर खिड़की की कुंडी खोल कर घर को करीब दो से तीन दिनों में खंगाला है।

चोरों ने घर में शराब भी पी थी। शराब की खाली बोतलें भी पड़ी हुईं थी। शहर से किनारे होने के कारण कुछ दूरी पर रहे पड़ोसियों को भी इसकी भनक नहीं लग सकी। चोर आसानी से सामानों को लेकर पीछे के दरवाजे से निकले हैं। छोटे बेटे मनीष ने पुलिस को तहरीर सौंप कार्रवाई की मांग की है। घटनास्थल का जायजा लेते हुए पुलिस घटना की छानबीन में जुट गयी। इस संबंध में एसओ संजय मिश्र ने कहा कि मामले की गहनता से छानबीन की जा रही है। कुछ संदिग्धों पर नजर रखी गई है। जल्द ही मामले के खुलासा कर दिया जायेगा।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक