कॉल अटेंशन दिवस के रूप में मनाई गई 1 फ़रवरी


 मजदूर यूनियन ने भारत सरकार व रेल प्रशासन को 9 सूत्रीय मांगों को लेकर एक ज्ञापन सौंपा

-केंद्रीय कर्मचारियों व पेंशनरों की महंगाई भत्ते की तीन किस्त लागू करने की मांग
-नई पेंशन स्कीम को वापस लेने,गारंटी डिपॉजिट पेंशन स्कीम को लागू किये जाने की मांग
-उत्तर रेलवे मजदूर यूनियन बालामऊ ने किया प्रदर्शन
हरदोई।उत्तर रेलवे मजदूर यूनियन बालामऊ द्वारा केंद्रीय कर्मचारियों द्वारा 1 फरवरी को कॉल अटेंशन दिवस के रूप में मनाया गया। कॉल अटेंशन दिवस मनाते हुए मजदूर यूनियन द्वारा भारत सरकार व रेल प्रशासन को 9 सूत्रीय मांगों को लेकर एक ज्ञापन भेजा गया।
         ज्ञापन में प्रमुख मांगे रही जिसमें केंद्रीय कर्मचारियों व पेंशनरों की महंगाई भत्ते की तीन किस्त 1 जनवरी 2020 8 जुलाई 2020 तथा 1 जनवरी 2021 वाली किस्त को तुरंत लागू किए जाने की मांग की गई, नई पेंशन स्कीम को वापस लेने तथा गारंटी डिपॉजिट पेंशन स्कीम को लागू के जाने की मांग को ज्ञापन में रखा गया, कर्मचारी 31 जनवरी 2021 या 30 जून 2021 को रिटायर होने वाले हैं उनको नेशनल इंक्रीमेंट प्रदान किया जाने की मांग की गई।मुरादाबाद मंडल के देहरादून बुलंदशहर आदि जगहों पर अधिकांश कर्मचारियों को अभी तक वाशिंग का लाभ नहीं दिया गया है जिसके कारण उनको भारी वित्तीय हानि हो रही है जिसे अतिशीघ्र दिया जाए।मुरादाबाद मंडल के समस्त कर्मचारियों के रोके गए यात्रा भत्ता, ओवरटाइम बच्चों की ट्यूशन फीस वा छुट्टियों का अति शीघ्र भुगतान किया जाए। 
      एसएससी बरेली के अधीन ट्रैक मैन अरुण कुमार जिनको एडीएन बरेली सेकंड द्वारा बर्खास्त किया गया है उनकी अति शीघ्र बहाली कि जाए तथा एडीएन बरेली के कार्यकाल की उच्च स्तरीय जांच कराए जाने के लिए मांग की गई है।इस मौके पर ब्रांच प्रेसिडेंट अजय पांडेय,राजीव गुप्ता,राजीव शुक्ला,स्टेशन अधीक्षक हरदोई राजीव आर्य,शैलेन्द्र कुमार आदि लोग मौजूद रहे। 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Sitapur Breaking News :पत्नी से़ छुब्ध होकर युवक ने लगाई फांसी।

उत्तर प्रदेश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट की अनिवार्यता पर रोक

यूपी में बैंक के समय में हुआ बड़ा बदलाव